DRDO की बड़ी कामयाबी एंटी सैटेलाइट मिसाइल से लाइव सैटेलाइट को मार...

DRDO की बड़ी कामयाबी एंटी सैटेलाइट मिसाइल से लाइव सैटेलाइट को मार गिराया, ऐसा करने वाला चौथा देश

0
SHARE

DRDO की बड़ी कामयाबी एंटी सैटेलाइट मिसाइल से लाइव सैटेलाइट को मार गिराया, ऐसा करने वाला चौथा देश: अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत ने आज बड़ी कामयाबी हासिल की है| भारत ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में जो कामयाबी हासिल की है उससे उसकी अंतरिक्ष के क्षेत्र में क्षमता काफी बड़ गई है और भारत ऐसा करने वाला दुनिया का चौथा देश बन गया है| आज बुधवार 27 मार्च को भारतीय वैज्ञानिकों ने एंटी सैटेलाइट मिसाइल से एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराने में कामयाबी हासिल की है| यह परिक्षण ओडिशा के डॉ. ए पी जे अब्‍दुल कलाम आइलैंड लॉन्‍च कॉम्‍प्‍लेक्‍स से किया गया, जब एंटी सैटेलाइट मिसाइल ने अंतरिक्ष में 300 किमी दूर पृथ्वी की निचली कक्षा ‘एलईओ’ में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराने में सफल रहे|

DRDO की बड़ी कामयाबी एंटी सैटेलाइट मिसाइल से लाइव सैटेलाइट को मार गिराया, ऐसा करने वाला चौथा देश

भारत से पहले ऐसा दुनिया में केवल तीन ही देशों ने किया और भारत ने यह कामयाबी करते हुए अपने को इस श्रेणी में ला खड़ा किया है| भारत दुनिया का चौथा ऐसा देश है जिसने एंटी सैटेलाइट मिसाइल से एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है| इससे पहले यह कारनामा अमेरिका, रूस और चीन कर चुके है| ये परिक्षण भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) के द्वारा किया गया है| जिसमें बैलिस्टिक मिसाइल डिफेंस इंटरसेप्‍टर का इस्‍तेमाल किया गया है। इसमें अद्यतन टेक्‍नोलॉजी का इस्‍तेमाल किया गया है।

इस परिक्षण की कामयाबी को भारत के द्वारा परमाणु परिक्षण की सफलता के समान बताया जा रहा है| आज दोपहर पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संदेश देते हुए इस कामयाबी की जानकारी दी और कहा की भारत अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत की अब तक की सबसे बड़ी कामयाबी है और यह परिक्षण किसी अंतरराष्ट्रीय कानून या संधि का उल्लंघन नहीं करता।

इस मिशन को शक्ति नाम दिया गया| जिसे पीएम ने हिंदुस्तान की ओर से की गई रक्षात्मक पहल बताया| उन्होंने कहा की भारत की यह पहल ना तो किसी के विरुद्ध है और ना ही अंतरिक्ष में हथियार की होड़ में शामिल हो रहा है| पीएम से इसे भारत की रक्षात्मक पहल करार दिया है|