पासपोर्ट इंडेक्स रैंकिंग में मालदीव से भी कमजोर है भारत का पासपोर्ट,...

पासपोर्ट इंडेक्स रैंकिंग में मालदीव से भी कमजोर है भारत का पासपोर्ट, इस देश का पासपोर्ट है सबसे शक्तिशाली

0
SHARE

पासपोर्ट इंडेक्स रैंकिंग में मालदीव से भी कमजोर है भारत का पासपोर्ट, इस देश का पासपोर्ट है सबसे शक्तिशाली: हर साल की तरह इस साल की पासपोर्ट इंडेक्स रिपोर्ट पेश हो चुकी है| इस रिपोर्ट में भारत के लिए थोड़ी अच्छी खबर है| अच्छी खबर यह है की भारत ने पिछले साल की तुलना में इस साल इस रिपोर्ट में अपनी स्तिथि को थोड़ा बेहतर किया है| लेकिन भारत का पासपोर्ट एशिया के सबसे छोटे देश मालदीव से कमजोर है| जहाँ भारतीय पासपोर्ट पर केवल 60 देश वीजा ऑन एराइवल मिलती है उससे कही ज्यादा देश मालदीव के पासपोर्ट पर यह सुविधा दे रहे है| आइए विस्तार से जानिए की भारत के मुकाबले उसके पडोसी देश पाकिस्तान, चीन, बांग्लादेश के पासपोर्ट पर कितने देश यह सुविधा देते है|

पासपोर्ट इंडेक्स रैंकिंग में मालदीव से भी कमजोर है भारत का पासपोर्ट, इस देश का पासपोर्ट है सबसे शक्तिशाली

पासपोर्ट इंडेक्स रैंकिंग

कम जनसंख्या कम एरिया के लिहाज से हिन्द महासागर में स्तिथ मालदीव एशिया का सबसे छोटा देश है| लेकिन इस देश के पासपोर्ट पर 87 देश वीजा ऑन एराइवल सुविधा देते है जो भारत के मुकाबले काफी बेहतर है| अमेरिकी फर्म हेन्ले की ओर से जारी ग्लोबल पासपोर्ट रैकिंग में मालदीव के पासपोर्ट को भारत के पासपोर्ट के मुकाबले काफी मजबूत करार दिया गया है| इस रिपोर्ट में जहां मालदीव को 58वीं रैंक मिली है तो वही भारत को 81वें स्थान पर रखा गया है|

बात करें पड़ोसी देशों की तो भारत की स्तिथि थोड़ी बेहतर है| इस साल भारत ने इस सूची में छह पायदान की छलांग लगाई है| साल 2017 में भारत को इस सूची में 87वां स्थान दिया गया था| इस रिपोर्ट को अमेरिकी फर्म हेन्ले एंड पार्टनर्स ने रिलीज़ की है| यह फर्म इस सूची में उन देश के पासपोर्ट को ऊपर के पायदान पर रखती है जिनके पासपोर्ट पर अधिक से अधिक देश वीजा ऑन एराइवल की सुविधा देते है| इसी आधार पर यह रैंकिंग तय होती है| जिस देश के पासपोर्ट पर सबसे ज्यादा वीजा ऑन वीजा ऑन एराइवल की सुविधा मिलती है| उस देश का पासपोर्ट सबसे ज्यादा मजबूत यानि की शक्तिशाली माना जाता है|

वर्ल्ड इमोजी डे 2018: भारत में इन 5 इमोजी का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है

जापान के पासपोर्ट पर 190 देशों में वीजा ऑन एराइवल मिलती है और इसी वजह से इस रैंकिंग में जापान को पहला स्थान मिला है| वही इस सूची में दूसरे स्थान पर सिंगापुर, तीसरे पर जर्मनी, फ्रांस और संयुक्त कोरिया को जगह दी गई है| इन देशों के पासपोर्ट पर क्रमशः 189 और 188 देश वीजा ऑन एराइल मिल जाता है| इसी तरह चौथे स्थान पर डेनमार्क, इटली, स्वीडन, स्पेन(187), पांचवे स्थान पर नॉर्वे, यूके, ऑस्ट्रिया, लक्जमबर्ग, नीदरलैंड, पुर्तगाल और यूएस हैं. पांचवें नंबर के इन सभी देशों के पासपोर्ट पर 173 देशों में वीजा ऑन एराइवल की सुविधा मिलती है|

भारत के मुकाबले का पासपोर्ट मजबूत है लेकिन भारत के अन्य पड़ोसी देश को इस लिस्ट में यह स्थान मिला है| पाकिस्तान(104), श्रीलंका(99) और बांग्लादेश 100 वें नंबर पर है|

वीजा एक ऐसा दस्तावेज यानि की डॉक्यूमेंट है जिस के आधार पर कोई देश अन्य देश के नागरिक को अपने देश में आने की इजाजत देता है| वीजा को लेकर हर देश के अलग नियम है| कोई देश वीजा देने पर फीस लेता है तो कोई देश वीजा को फ्री में देता है| वीजा ऑन एराइवल एक ऐसी सुविधा है, जब कोई व्यक्ति किसी अन्य देश में पहुँचता है तो उसे एयरपोर्ट पर ही वीजा मिल जाता है| भारत के पासपोर्ट पर यह सुविधा 60 देश ही देते है| ऐसा मतलब यह है की अगर कोई भारतीय नागरिक इन 60 देशों में से किसी में भी घूमने के लिए जाता है तो उसे वीजा के लिए अलग से अप्लाई करने की जरुरत नहीं है| वह उस देश में पहुँचकर वही पर उस देश का वीजा प्राप्त कर सकता है| अब सरकार ने वीजा-ऑन-अराइवल का नाम बदलकर ई-टूरिस्‍ट रख दिया है|