Home सुर्खियां भीषण गर्मी में हुआ आधा भारत परेशान, यूपी में पारा 48 डिग्री...

भीषण गर्मी में हुआ आधा भारत परेशान, यूपी में पारा 48 डिग्री के पार

22
0

भीषण गर्मी में हुआ आधा भारत परेशान, यूपी में पारा 48 डिग्री के पार :- राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में इस समय भीषण गर्मी पड़ रही है। उत्तर भारत के अधिकतर इलाकों में लू के थपेड़ो से लोग बूरी तरह प्रभावित है। कई राज्यों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के पार चले गया है। बट्टा करे एनसीआर के इलाकों की नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, फरीदाबाद और सोनीपत में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया है। गाजियाबाद और गुरुग्राम में पारा 45 डिग्री के पार भी दर्ज किया गया। दिल्ली को लोगों को भी इस भीषण गर्मी से आने वाले दो-तीन दिनों से पहले राहत मिलने की उम्मीद काफी कम है।

मौसम विभाग के अनुसार गर्मी और लू से 1 जून से पहले राहत नहीं मिलेगी। मैदानी इलाकों के साथ ही पहाड़ी इलाकों तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। उत्तराखंड के उत्तरकाशी और अल्मोड़ा में अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस हो गया है, तो देहरादून और हरिद्वार में 38 डिग्री तापमान दर्ज किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश, तेलंगाना, झारखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, बिहार, झारखंड और ओडिशा लू के थपेड़ो का सामना लोगों को आने वाले दो से तीन दिन तक करना होगा।

गर्मी में हुआ आधा भारत परेशान

राजस्थान में भीषण गर्मी और लू की वजह से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेशभर के अधिकतर हिस्सों में जनजीवन काफी प्रभावित हुआ है। चूरू में अधिकतम तापमान 47.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य तापमान से चार डिग्री ज्यादा है। प्रदेश के पश्चिमी इलाकों में भीषण गर्मी और लू चल रही है। जम्मू-कश्मीर भी गर्मी की मार से अछूता नहीं रहा है, यहाँ गर्मी लोगों का जीना मुहाल किया हुआ है। जम्मू-कश्मीर में बीते कुछ दिनों से पड़ रही गर्मी ने बुधवार को सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए है। जम्मू में अधिकतम तापमान 42.8, जबकि न्यूनतम तापमान 23.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उप्र में भी आसमान से आग बरसी. लगातार चढ़ रहे पारे के चलते पूरे प्रदेश में तपन की स्थिति रही. हमीरपुर जिला 48 डिग्री तापमान के साथ सर्वाधिक गर्म रहा।

मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी के दक्षिणी हिस्से से आने वाली हवाओं से मानसून के आगे बढ़ने और इसे मज़बूत होने में मदद मिल रही है, ऐसे में दक्षिण-पश्चिम मानसून पांच दिन की देरी से 6 जून को केरल तट पर पहुंचेगा। मौसम विभाग ने पहले ही पूर्वानुमान जताया था कि इस साल सामान्य हाेगी बारिश-माैसम विभाग के अनुसार इस साल सामान्य 96 फीसदी बारिश हाेगी।