Royal Enfield: तेज आवाज वाली बुलेट अब पुलिस के निशाने पर! लग...

Royal Enfield: तेज आवाज वाली बुलेट अब पुलिस के निशाने पर! लग सकता है जुर्माना

0
SHARE

Royal Enfield: तेज आवाज वाली बुलेट अब पुलिस के निशाने पर! लग सकता है जुर्माना– बुलेट चलाने के शौकीन लोगों के लिए एक बुरी खबर है| बुलेट में अब अधिक आवाज वाला सायलेंसर लगाने पर आपको तगड़ा जुर्माना भरना पड़ेगा| पुलिस प्रशासन ने अपनी कमर कस ली है और अब बुलेट में तेज आवाज वाले सायलेंसर लगाने वाले पर लगाम लगाने की तैयारी शुरू हो गई है| हैदराबाद में पुलिस ने बुलेट में लगे तेज आवाज वाले सायलेंसर पर चालान करना शुरू कर दिया है| मॉडिफायड सायलेंसर लगाने वालो का पुलिस चालान तो काट ही रही है साथ ही साथ मैकेनिक को बुलाकर उनका सायलेंसर भी निकलवाया जा रहा है|

royal enfield silencer banned

पुलिस ने अपने इस अभियान के तहत रामागुंडम शहर में बुलेट चलाने वाले लोगों को पकड़ा और उनकी जानकारी आगे की कार्यवाही के लिए रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी को भेज दी है| इस मामले में कुछ लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए पुलिस के द्वारा की जा रही इस कार्यवाही को गलत करार दिया है|

चलिए जानते है की क्या है कानून

केंद्रीय मोटर वाहन अधिनियम की धारा 190 के मुताबिक ‘कोई भी व्यक्ति जो किसी भी सार्वजनिक स्थान पर मोटर वहां का इस्तेमाल करते समय सड़क सुरक्षा, ध्वनि और वायु प्रदुषण के नियंत्रण के संबंध में निर्धारित मानकों का उलंघन करता है तो यह अपराध की श्रेणी में माना जाएगा| ऐसे उस व्यक्ति को पहली बार 1000 रूपये और दूसरी बार 2000 रूपये की राशि ज़ुर्माने के तौर पर अदा करने होंगे| दो से अधिक बार ऐसा करते हुए पाए जाने पर उसके खिलाफ उसे अन्य दंड भी भुगतना होगा|

ऑटोमोटिव मानदंडों के मुताबिक, वाहनों के चलने से निकलने वाली अधिकतम आवाज 80 डेसिबल तक होनी चाहिए| या मानक को ध्यान में रखकर ही वहां निर्माता कंपनी वाहनों का निर्माण करती है| लेकिन कुछ लोग अधिक आवाज के लिए अपनी बाइक को मॉडिफाई करवा लेते जिसे काफी अधिक आवाज निकलती है जो सीधा-सीधा नियमों का उलंघन है|

देशभर के शहरों में ध्वनि प्रदूषण से लोग काफी परेशान हैं। स्थिति यह है कि शहर की सड़कों पर दिनभर तेज आवाज की बाइकों के सायलेंसर से पटाखे छोड़े जाते हैं| ऐसे में पुलिस के द्वारा चलाए जा रहे इस अभियान से थोड़ी राहत मिलने की उम्मीद है| ध्वनि प्रदुषण से सभी को परेशानी का सामना करना पड़ता है| ऐसे में एक जागरूक इंसान की हैसियत से किसी को भी इस प्रकार की चीजें अणि बाइक में नहीं लगवानी चाहिए|