Home सुर्खियां वीडियो बनाने पर शराब माफिया ने सब इंस्पेक्टर की पीट-पीटकर करी हत्या...

वीडियो बनाने पर शराब माफिया ने सब इंस्पेक्टर की पीट-पीटकर करी हत्या , केस दर्ज

43
0

वीडियो बनाने पर शराब माफिया ने सब इंस्पेक्टर की पीट-पीटकर करी हत्या, केस दर्ज– दिल्ली शाहदरा इलाके के विवेक विहार में दिल्ली पुलिस के सब-इंस्पेक्टर की पीट-पीटकर हत्या करने की घटना सामने आई है| इस मामले में सबसे हैरान करने की बात यह है की आरोपी यह जनता था की व्यक्ति को वह मार रहा है वह दिल्ली पुलिस में सब-इंस्पेक्टर के पद पर तैनात है| इस बात से साफ जाहिर होता है की बदमाशों के बीच दिल्ली पुलिस को लेकर खौफ खत्म हो गया है| पुलिस अधिकारी से मार-पीट के बाद आरोपी उन्हें सड़क पर ही अधमरी हालत में छोड़कर वहां से भाग गया|

delhi police sub inspector killed for filming illegal liquor trade

हैरान करने वे बात है की इस घटना से कुछ ही दूरी पर पुलिस की पिकेट लगाई गयी थी, लेकिन पिकेट पर पोलिसकर्मियों को भी पीसीआर कॉल आने से पहले तक आस-पास किसी झगड़े खबर की जानकारी नहीं मिली| अस्पताल ले जाने से पहले ही पुलिसकर्मी की मौत हो गई| मृतक पुलिसकर्मी की पहचान एसआई राजकुमार (56 साल) के रूप में हुई है, जो दिल्ली पुलिस के कम्यूनिकेशन यूनिट में तैनात थे। राजकुमार शाहदरा जिले के विवेक विहार इलाके में रहते थे।

डीसीपी शाहदरा मेघना यादव ने जानकारी दी कि पुलिस को रविवार रात मामले की जानकारी मिली, जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी विवेक विहार थाने का बीसी (बैड कैरेक्टर) है, जिसके खिलाफ तकरीबन दो दर्जन एफआईआर पेले से ही दर्ज हैं। पुलिस के अनुसार, आरोपी विजय उर्फ भूरी शाहदरा के कस्तूरबा नगर में रहता है। एसआई राजकुमार के साथ आरोपी विनोद का झगड़ा हुआ था, क्योंकि पुलिस ने इलाके में अवैध शराब की बिक्री रोकने के लिए पुलिस पिकेट लगाई थी।

इसी वजह से विनोद ने एएसआई को काफी कुछ कहा, जिसके बाद एएसआई राजकुमार ने वीडियो शूट करना शुरू कर दिया| पुलिसकर्मी को वीडियो बनाता देख विनोद गुस्से में आ गया और आरोपी और मृतक एएसआई के बीच हाथापाई शुरू हो गई| यह पूरी घटना रविवार रात 9 बजकर 30 मिनट के आस-पास की बताया जा रही है| जसि वक्त यह घटना हुए उस समय एएसआई राजकुमार वर्दी में नहीं थे लेकिन आरोपी यह अच्छे से जानता था की वह एक पुलिसकर्मी से झगड़ा कर रहा है| आरोपी पुलिसकर्मी को अधमरा करके वहां से भाग गया|

पुलिस के अनुसार आरोपी और पुलिसकर्मी के बीच मारपीट के दौरान वहां इकठ्ठा हो गई थी लेकिन ना किसी ने बीच-बचाव और ना ही घायल पुलिसकर्मी को इलाज के लिए अस्पताल ले गए| बाद में उनकी बेटी ही उनको लेकर एक प्राइवेट अस्पताल गई, जहां से उनको मैक्स अस्पताल रेफर कर दिया गया। हालांकि मैक्स पहुंचते वक्त रात के 12:30 बज चुके थे और अस्पताल पहुंचने से पहले ही राजकुमार की मौत हो गई। इसके बाद अस्पताल ने मामले की सूचना पुलिस को दी।

मौत की वजह पोस्टमोर्टम रिपोर्ट से साफ होगी, आशंका की उनकी मौत हार्ट अटैक से हुई है. राजकुमार और बदमाश भूरी आसपास ही रहते हैं और उस वक़्त राजकुमार ड्यूटी पर नहीं थे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here