Home सुर्खियां दिल्ली: एक ट्यूशन टीचर ने अपनी बीवी और 3 बच्चों को उतारा...

दिल्ली: एक ट्यूशन टीचर ने अपनी बीवी और 3 बच्चों को उतारा मौत के घाट

9
0

दिल्ली: एक ट्यूशन टीचर ने अपनी बीवी और 3 बच्चों को उतारा मौत के घाट :- दिल्ली के महरौली से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहाँ एक पिता ने अपने तीन मासूम बच्चों और पत्नी का गला काटकर हत्या कर दी। आरोपी व्यक्ति पेशे से ट्यूशन टीचर बताया जा रहा है। जिसकी पहचान उपेंद्र के रूप में हुई है। दिल्ली पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने कई हैरान करने वाली बात कही है। आरोपी उपेंद्र ने बताया की उसका इरादा पत्नी, तीनों और खुद को जान से मारने का था। पहले उसने पूरे परिवार के सदस्यों को जान से मार दिया और फिर खुद को मारने की तैयार हो गया। लेकिन जब खुद की कलाई काटने की कोशिश कर रहा था तब उसे दर्द महसूस हुआ और उसने फिर खुद को मारने का इरादा बदल दिया। इस दौरान उसने काफी ज्यादा नींद की गोलियां भी खा रही थी, जिसकी वजह से वजह से वह बेहोशी की हालत में था।

उपेंद्र ने पहले बड़ी चालाकी से पत्नी और दो बच्चों का गला दबाकर हत्या कर दी और फिर तीनों के तेज धारधार चाकू से गले काट दिए। दरिंदगी की हद तो तब हो गई जब आरोपी ने अपने 42 दिन के बच्चे तक को नहीं बख्शा, उसने अपने मासूम बच्चे को गला काट दिया। पुलिस की पूछताछ में उपेंद्र ने कहा की उसे अपनी इस हरकत का कोई पछतावा नहीं है।

एक ट्यूशन टीचर ने अपनी बीवी और 3 बच्चों की हत्या

अपनी इस हरकत के पीछे उपेंद्र ने पत्नी की खराब तबियत और पैसों की कमी को बताया। आर्थिक तंगी की वजह से उसके पास परिवार क खत्म करने के अलावा उसके पास कोई चारा ही नहीं बचा था। उपेंद्र ने इस घटना को पूरी तैयारी के साथ अंजाम दिया। उसने कुछ दिन पहले ही नींद की गोलियां और आरी खरीदी थी। उसने दूध में गोलियां मिलाकर उसने पहले पूरे परिवार को बेसुध कर दिया और फिर गला काट दिया।

उपेंद्र के पड़ोसियों का कहना है कि- उन्हें ऐसा कभी नहीं लगा की इनके परिवार में कोई परेशानी हो। घर के नीचे मौजूद किराने की दुकान वाले ने बताया की उन्होंने कभी दुकान से उधर समान नहीं खरीदा। घर में सब कुछ ठीक ही था। यह परिवार ज्यादातर मिलनसार ही था। किसी से कोई झगड़ा नहीं था।