विवेक तिवारी हत्याकांड: दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर दिया इसे...

विवेक तिवारी हत्याकांड: दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर दिया इसे मजहबी रूप

0
SHARE

विवेक तिवारी हत्याकांड: दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर दिया इसे मजहबी रूप दिल्ली के पड़ोसी राज्य यूपी की राजधानी में लखनऊ में शुक्रवार रात एप्पल कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की हत्या का मामला अब सियासी रूप लेने लगा है| विवेक तिवारी हत्याकांड को दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने अपने बयान से सियासी रूप दे दिया है| दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने विवेक तिवारी हत्याकांड पर अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर कहा की- विवेक तिवारी तो हिन्दू था फिर उसे क्यों मार दिया गया| केजरीवाल ने अपने इस ट्वीट के जरिए इस मामले को मजहबी रूप दे दिया है| जिसके जवाब में दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने पलटवार किया है|

विवेक तिवारी हत्याकांड: दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर दिया इसे मजहबी रूप

दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर करते हुए कहा की- विवेक तिवारी तो हिन्दू था? फिर उसकी हत्या क्यों की गई? केजरीवाल यही नहीं रुके उन्होंने इसके आगे कहा की ब्ज्प के नेता पूरे देश के हिन्दू लड़कियों का रेप कर खुले घूम रहे है| अपनी आँखों पर लगे पर्दे को हटाइए| भाजपा हिन्दुओं की हिमायती नहीं है| अगर बीजेपी ब्ज्प सत्ता के लालच के लिए चंद मिंटो में सभी हिन्दुओं का भी क़त्ल कर सकती है|

केजरीवाल के के इस ट्वीट के बाद उन्ही की सरकार में मंत्री रह चुके आप के पूर्व नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट करते हहुए केजरीवाल पर पलटवार करते हुए कहा की- ‘ये भाषा – हिन्दू को मारा,हिन्दू लड़कियों का रेप किया, हिंदुओं का क़त्ल – बिल्कुल आग लगा देना चाहते हैं देश में। देश जलाकर क्या मिलेगा? सत्ता? पैसा? इनाम? आप मोदी और भाजपा विरोध में पागल हो चुके हैं। ईलाज़ करवाइये ‘

आइए आपको बताते है की क्या है विवेक तिवारी हत्याकांड?

लखनऊ के गोमतीनगर में एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने शुक्रवार देर रात एक युवक को गोली मार दी। जान गंवाने वाले शख्स की पहचान विवेक तिवारी के रूप में हुई है जो बहुराष्ट्रीय कंपनी एप्पल में एरिया मैनेजर के पद पर तैनात थे। शुक्रवार रात विवेक आईफोन के लॉन्चिंग इवेंट के बाद घर वापस लौट रहे थे।

यूपी पुलिस के कांस्टेबल ने एप्पल के मैनेजर को गोली मारी

इस बीच रास्ते में पुलिस ने उनकी गाड़ी को रोकने की तो इस पर विवेक और आरोपी कॉन्स्टेबल के बीच कहासुनी हुई और बाद में कॉन्स्टेबल ने विवेक पर गोली चला दी और बाद में उनकी मौत हो गई।