Home सुर्खियां Chandrayaan 2 लॉन्च Live Updates | चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण सफल |...

Chandrayaan 2 लॉन्च Live Updates | चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण सफल | जानें भारत के दूसरे चांद के मिशन के बारे में ??

500
0

Chandrayaan 2 लॉन्च Live Updates | चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण सफल | जानें भारत के दूसरे चांद के मिशन के बारे में ?? :- भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानि की इसरो 14 और 15 जुलाई की मध्यरात्रि को 2 बजकर 51 मिनट पर अपना अब तक का सबसे बड़ा मिशन चंद्रयान-2 लॉन्च करने जा रहा है। बता दें की चंद्रयान 2 की लॉन्चिंग श्रीहरिकोटा के सतीश धवन सेंटर के दूसरे लॉन्च पैड से होगी। इसे भारत के सबसे ताकतवर जीएसएलवी मार्क-III रॉकेट से लॉन्च किया जाएगा। सफलतापूर्वक लॉन्च होने के तकरीबन 55 दिन में यानि की 6 और 7 सितंबर के दरम्यान चांद की सतह पर उतरने में सफल होगा।

ISRO आज लॉन्च करेगा मिशन चंद्रयान 2 को, जानिए ! भारत और ISRO के लिए क्यों अहम है यह मिशन
ISRO आज लॉन्च करेगा मिशन चंद्रयान 2 को, जानिए ! भारत और ISRO के लिए क्यों अहम है यह मिशन

Chandrayaan 2 Launch Live Updates

चंद्रयान-2 का लैंडर विक्रम और रोवर प्रज्ञान दक्षिणी ध्रुव पर उतरेंगे. वहीं, ऑर्बिटर चंद्रमा के चारों तरफ चक्कर काटते हुए विक्रम और प्रज्ञान से मिले डाटा के पृथ्वी पर स्थित इसरो केंद्र को भेजेगा। इस प्रोजेक्ट पर करीब 1000 करोड़ रूपये खर्चा आया है। अगर यह मिशन सफल होता है तो अमेरिका, रूस, चीन के बाद भारत दुनिया का चौथा ऐसा देश बन जाएगा जिसने सफलतापूर्ण चांद पर रोवर उत्तारा हो। भारत के लिए चंद्रयान 2 कई मायनों में अहम है।

चंद्रयान-2 लाइव उपदटेस

 

पहले यह मिशन रूस की अंतरिक्ष एजेंसी के साथ लॉन्च किया जाना था लेकिन लॉन्चिंग के एन पहले जनवरी 2013 में रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रॉसकॉसमॉस लैंडर नहीं दे सकी। इसरो ने चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग मार्च 2018 रखी। लेकिन कुछ टेस्ट कारणों से इसकी लॉन्चिंग डेट में बदलाव होता रहा और अब आखिरकार इसरो का यह मिशन लॉन्च होने जा रहा है। इस मिशन के सफल होने से सफल होने से यह दुनिया को यह संदेश जाएगा की भारत बिना किसी की मदद के भी अंतरिक्ष में कामयाबी हासिल कर सकता है।

बेशक इसरो का मिशन दुनिया के लिए छोटा हो लेकिन इस मिशन होने से भारत अंतरिक्ष की दुनिया में अपनी एक नई पहचान बनाएगा। अभी तक दुनिया के पांच देश ही चांद पर सॉफ्ट लैंडिंग करा पाए हैं. ये देश हैं – अमेरिका, रूस, यूरोप, चीन और जापान. इसके बाद भारत ऐसा करने वाला छठा देश होगा. हालांकि, रोवर उतारने के मामले में चौथा देश है।

इसरो का चंद्रयान मिशन चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा। अब अब तक इस क्षेत्र में कोई भी देश नहीं पहुँच सका है। अगर भारत इसमें कामयाब होता है की उसे कई नई चीजें और काफी कुछ जानकारी हासिल होगी। जो भारत और पूरी के लोगों के लिए मिल का पत्थर साबित होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here