वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

0
SHARE

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर (World Cancer Day): दुनियाभर में 4 फरवरी को वर्ल्ड कैंसर डे के रूप में मनाया जाता है| हर साल 4 फरवरी को दुनिया के हर हिस्से में कैंसर बीमारी के प्रति जागरूक करने के लिए कई तरह के कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है| वर्ल्ड कैंसर डे पर भारत सहित अन्य देशों में जागरूकता अभियान चलाकर कैंसर जैसी घातक बीमारी के प्रति लोगों को जागरूक किया जाता है| कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसका समय पर इलाज नहीं होने पर इंसान की जान भी लेता है| हर साल दुनियाभर में कई करोड़ो की संख्या में लोग कैंसर से पीड़ित होकर अपनी जान गंवा देते है| वर्ल्ड कैंसर डे पर हम इस आर्टिकल में कैंसर डे निबंध, कविता, स्लोगन, पोस्टर शेयर कर रहे है|

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध

मनुष्य के अलग-अलग अंगो में कैंसर होने का खतरा बना रहता है| कैंसर का इलाज काफी महंगा है और यही वजह है की कई लोग इस बीमारी पीड़ित होने पर समय पर ठीक से इलाज नहीं करवा पाते और अपनी जान से हाथ दो बैठते है| हर साल इस डे को सेलिब्रेट करने का मकसद हर एक इंसान को कैंसर के बारे में जागरूक करना है|

वैश्विक आधार पर एक दिन सभी लोगों को एक करने के द्वारा इसके एहतियाति कदम सहित इसके उपचार और इस महामारी के बारे में वास्तविक संदेश को फैलाने के साथ ही कैंसर के खिलाफ लड़ने के लिये रणनीति बनाने की ओर सरकारी और गैर-सरकारी स्वास्थ्य संगठन, संयुक्त राष्ट्र, डबल्युएचओ के द्वारा सभी प्रयासों को याद करने के लिये पूरे विश्व में 4 फरवरी को हर साल विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है। इसे कुछ नयी रणनीतियों की योजना के साथ ही कुछ नये कार्यक्रमों को लागू करने के लिये मनाया जाता है जो इस बीमारी के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरुक करने में मदद करता है। ये कार्यक्रम वार्षिक आधर पर कैंसर के खिलाफ लड़ाई में शामिल केन्द्रीय अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण (यूआईसीसी) और दूसरे प्रमुख स्वास्थ्य संगठन की देखरेख में आयोजित किया जाता है।

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

वर्ल्ड कैंसर डे कविता

विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर कविता के माध्यम से भी लोगों को जागरूक किया जाता है| कैंसर से पीड़ित व्यक्ति को वर्ल्ड कैंसर डे पर इंस्पिरेशनल कविता भेजकर उन्हें सांत्वना दें|

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

वर्ल्ड कैंसर डे भाषण

यूआईसीसी (केन्द्रीय अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण) के नियंत्रण में और विभिन्न दूसरे प्रसिद्ध कैंसर समाजों, शोध संस्थानों, उपचार केन्द्रों और मरीजों के समूह की सहायता के साथ 1933 में स्वीट्ज़रलैण्ड के जेनेवा में विश्व कैंसर दिवस को मनाने की योजना की शुरुआत हुई थी। इस घातक बीमारी को नियंत्रित करने और लड़ने के लिये सभी जरुरतों को पूरा करने के लिये विश्व कैंसर दिवस के कार्यक्रम स्थापना हुई थी।

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

एक रिपोर्ट के अनुसार ये ध्यान देने योग्य है कि 12.7 मिलीयन से अधिक लोगों की कैंसर की पहचान की गयी साथ ही हर वर्ष 7 मिलीयन लोग इस बीमारी से मरते हैं। इस संक्रामक बीमारी के खतरे से बचाने और इसके एहतियातन कदम का अनुसरण करने, लोगों को इसके लक्षणों की जाँच करने के लिये निर्देश देना साथ ही साथ कैंसर से लाखों जीवन बचाने के लिये इस दिन के वार्षिक उत्सव को मनाने की योजना की शुरुआत की गयी। 4 फरवरी की स्थापना खासतौर से सही खान-पान के बारे में उन्हें सिखाने, नियमित और उचित शारीरिक क्रियाकलाप के लिये और एक सीख कि कैसे कैंसरकारी तत्व या परिस्थिति से बचाव किया जाए आदि कैंसर के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाने के लिये की गयी है।

वर्ल्ड कैंसर डे स्लोगन, पोस्टर

वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर वर्ल्ड कैंसर डे निबंध, कविता, भाषण, स्लोगन, पोस्टर

उम्मीद करते है की आपको हमारी वर्ल्ड कैंसर डे पर लिखी गई यह पोस्ट पसंद आई होगी| ऐसी ही अन्य पोस्ट को पढ़ने के लिए हमें फॉलो करें| इस आर्टिकल को सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूलें|