Home त्यौहार विजय दिवस पर भाषण 2019 | Vijay Diwas Speech in Hindi

विजय दिवस पर भाषण 2019 | Vijay Diwas Speech in Hindi

156
0

विजय दिवस पर भाषण 2019 | Vijay Diwas Speech in Hindi (Bhashan): भारत में हर साल 16 दिसंबर के दिन को विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। 16 दिसंबर 1971 का वह ऐतिहासिक दिन जब दुनिया के नक्शे पर एक नए देश बांग्लादेश का उदय हुआ। इस दिन ही भारतीय सेना ने पूर्वी पाकिस्तान जो आज बांग्लादेश को को पाकिस्तानी हुकूमत से आजादी दिलाई थी। पाकिस्तान सेना और भारतीय सेना के बीच इसे लेकर काफी दिनों तक युद्ध लड़ा गया और आखिरकार भारतीय सेना इस युद्ध को जीतने में कामयाब रही। यही वजह है की इस दिन को भारत में विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है और इस युद्ध में हिस्सा लेने वाले भारतीय जवानों को याद किया जाता है। विजय दिवस पर देशभर में कई कार्यक्रम का आयोजन होता है। जिसमें विजय दिवस पर भाषण दिए जाते है। हम इस पोस्ट में विजय दिवस स्पीच से जुड़े इम्पोर्टेन्ट पॉइंट्स शेयर कर रहे है। जिन्हें आप अपनी विजय दिवस स्पीच में शामिल कर सकते है।

विजय दिवस पर भाषण 2019 | Vijay Diwas Speech in Hindi
विजय दिवस पर भाषण 2019 | Vijay Diwas Speech in Hindi

विजय दिवस पर भाषण 2019

साल 1947 में भारत का धर्म के आधार पर विभाजन हुआ जिसके 24 साल बाद 1971 में दुनिया के नक्शे पर एक नए देश बांग्लादेश का उदय हुआ। यह भारत के विभाजन से अलग देश बने पाकिस्तान का वो हिस्सा था, जिसे पूर्वी पाकिस्तान के नाम से जाना जाता था। पूर्वी पाकिस्तान पर पाकिस्तान की सरकार और फौज दोनों ने ही बांग्ला भाषा, साहित्य और संस्कृति को नुकसान पहुंचाया। इस उत्पीड़न से मुक्ति की प्रबल उत्कंठा वहां के जन-जन के मनोमस्तिष्क में थी, लेकिन फौज के दमन से मुकाबला करने की सामर्थ्य जुटाने में तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान के बांग्ला मानुष खुद को असहाय सा पा रहे थे। ऐसे हालात में भारत का नेतृत्व श्रीमती इंदिरा गांधी कर रही थीं। उन्होंने दुनिया की परवाह किए बगैर अपने लौह इरादों का परिचय देते हुए बांग्ला मुक्ति वाहिनी को अपना समर्थन दिया।

विजय दिवस पर कविता 2019 | Vijay Diwas Poem in Hindi

Vijay Diwas Speech in Hindi

उस समय भारत की पीएम इंदिरा गांधी थी और उन्होंने बांसतीशग्ला देश की मुक्ति की कामना को भारतीय फौज की मदद से हकीकत में बदल दिया। इंदिरा जी के सामर्थ्य और दृढ़ इरादे ने दुनिया में भारत का डंका बजा दिया था।1971 में जब ढाका में पाकिस्तान के 90 हजार से ज्यादा सैनिकों को भारी फौज और रसद होते हुए भी प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की फौज के सामने विवश होकर हथियार डालने पड़े। भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर इस विजय के साथ ही एक नया इतिहास बन दिया। इस युद्ध में दुनिया ने भारतीय सेना और इंदिरा जी के दृढ़ इरादे को देखा और भारत ने अपना लोहा दुनिया में मनवाया।

Vijay Diwas Bhashan

इस युद्ध से यह साबित कर मजहब के नाम पर भारत विभाजन कर पाकिस्तान बनाना अंग्रेजी हुकूमत ने गलत किया। बांग्लादेश के उदय के साथ ही 1947 में दो राष्ट्र बनाने के फैसले खारिज करने वाला था।

विजय दिवस 2019: Vijay Diwas Messages, SMS, Shayari, Quotes, Images

विजय दिवस पर होने कार्य्रकम में अगर आप हिस्सा ले रहे है तो आपको हो सकता है आपको इस गौरवान्वित दिवस पर भाषण देने का मौका मिले तो इसके लिए आप पहले ही तैयार रहे और ऊपर इस पोस्ट में विजय दिवस भाषण पर कुछ जरुरी जानकारी शेयर की गई है जिन्हें आप अपनी स्पीच में शामिल कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here