Home सुर्खियां लोकसभा Election 2019 कांग्रेस की हार के बाद, कल CWC की होगी...

लोकसभा Election 2019 कांग्रेस की हार के बाद, कल CWC की होगी बैठक, राहुल गांधी का इस्तीफा

31
0

लोकसभा Election 2019 कांग्रेस की हार के बाद, कल CWC की होगी बैठक, राहुल गांधी का इस्तीफा :- लोकसभा चुनाव 2019 में मिली करारी हार पर मंथन करने के लिए कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति ने शनिवार को बैठक बुलाई है| सूत्रों से पता चला है की इस बैठक में राहुल गाँधी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश कर सकते है| कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘सीडब्ल्यूसी की बैठक में चुनाव में मिली हार की वजह पर विचार विमर्श किया जाएगा| हार के कारणों पर विचार करने के साथ-साथ पार्टी को मजबूत करने पर भी कई बड़े फैसले लिए जा सकते है| इस बैठक में राहुल गांधी के अलावा यूपीए प्रमुख सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और कार्यसमिति के अन्य सदस्य मौजूद होंगे| इस बार के चुनाव में करारी शिखस्त का सामना करना पड़ा है| साल 2014 में जहां कांग्रेस को 44 सीट मिली थी तो इस बार के चुनाव उसे 52 ही सीट मिल सकी है| जबकि उसे इस बार के चुनाव में काफी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद थी| जिसपर चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद पूरी तरह से पानी फिर गया|

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के बेकार प्रदर्शन के बाद प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने राहुल गाँधी को अपना इस्तीफा भेज दिया| इसकी जानकारी प्रदेश के प्रवक्ता राजीव बख्शी ने पीटीआई से शेयर की| राज बब्बर ने यूपी में पार्टी के निराशाजनक प्रदेश की जिम्मेदारी लेते हुए यह फैसला किया है|

लोकसभा Election 2019 राहुल गांधी का इस्तीफा

राज बब्बर से इससे पहले एक ट्वीट भी किया था जिसमें उन्होंने यूपी में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन नहीं करने की जिम्मेदारी लेते हुए खुद को दोषी माना था| कांग्रेस में ही सीट पर जीत हासिल की है| जो सोनिया गाँधी ने जीती है| खुद राज बब्बर फतेहपुर सीकरी से चुनाव हार गए|

ओडिशा में विधानसभा और लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस समिति अध्यक्ष निरंजन पटनायक ने शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफे का ऐलान कर दिया| पटनायक ने मीडिया से कहा, ‘प्रदेश में लोकसभा और विधानसभा चुनावों में पार्टी के खराब प्रदर्शन की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मैंने अपना त्यागपत्र कांग्रेस अध्यक्ष को भेज दिया है.’कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘राज्य में कांग्रेस तो हारी ही है, मैं स्वयं भी हार गया.’ जनता का भरोसा जीतने में कांग्रेस के विफल रहने की बात स्वीकार करते हुए उन्होंने कहा कि अवसरवादियों की पहचान कर पार्टी को अब राज्य में बेहतर स्तर पर खड़ा करने के लिए ठोस निर्णय लेने की आवश्यकता है और युवाओं को आकर्षित करने की जरूरत है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here