Home त्यौहार राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध 2019 | National Pollution Control Day...

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध 2019 | National Pollution Control Day Essay in Hindi

126
0

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध 2019 | National Pollution Control Day Essay in Hindi: दुनिया का हर देश इस समय प्रदूषण की समस्या से जूझ रहा है। इसके निपटान के लिए हर कोई अपने तरीके और जागरूकता अभियान चलकर प्रदूषण के नियंत्रण में लगा हुआ है। प्रदूषण के नियंत्रण के लिए हर देश में एक दिन विशेष रूप से इसके लिए रिज़र्व रखा गया है। भारत में हर साल 2 दिसंबर के दिन को राष्ट्रिय प्रदूषण नियंत्रण दिवस के रूप में मनाया जाता है। प्रदूषण का भयंकर रूप भारत के लोग साल 1984 में देख चुके है। 2-3 दिसंबर 1984 की भोपाल गैस त्रासदी को भारत कभी नहीं भूल सकता। यह दिन हमें यह भी सीखता है की प्रकृति के प्रति लापरवाही एक बड़ी भूल साबित हो सकती है। राष्ट्रिय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध से जुड़ी जानकारी शेयर की जा रही है। स्कूल, कॉलेज में होने वाले एग्जाम में पोल्लुशन कंट्रोल पर एस्से लिखने के लिए आ जाते है जिसके लिए सही जानकारी होना जरुरी है।

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध 2019 | National Pollution Control Day Essay in Hindi
राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध 2019 | National Pollution Control Day Essay in Hindi

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर निबंध 2019

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस उन लोगों की याद में मनाया जाता है जिन्होंने भोपाल गैस त्रासदी में अपनी जान गँवा दी थी। उन मृतकों को सम्मान देने और याद करने के लिये भारत में हर वर्ष 2 दिसंबर को मनाया जाता है। भोपाल गैस त्रासदी वर्ष 1984 में 2 और 3 दिसंबर की रात में शहर में स्थित यूनियन कार्बाइड के रासायनिक संयंत्र से जहरीला रसायन जिसे मिथाइल आइसोसाइनेट (एमआईसी) के रूप में जाना जाता है के साथ-साथ अन्य रसायनों के रिसाव के कारण हुई थी। रिपोर्ट के मुताबिक, 500,000 से अधिक लोगों की (जो 2259 के आसपास तुरंत मर गये) एमआईसी की जहरीली गैस के रिसाव के कारण मृत्यु हो गयी। बाद में, मध्य प्रदेश सरकार द्वारा ये घोषित किया गया कि गैस त्रासदी से संबंधित लगभग 3,787 लोगों की मृत्यु हुई थी। अगले 72 घंटों में लगभग 8,000-10,000 के आसपास लोगों की मौत हुई, वहीं बाद में गैस त्रासदी से संबंधित बीमारियों के कारण लगभग 25000 लोगों की मौत हो गयी। ये पूरे विश्व में इतिहास की सबसे बड़ी औद्योगिक प्रदूषण आपदा के रुप में जाना गया जिसके लिये भविष्य में इस प्रकार की आपदा से दूर रहने के लिए गंभीर निवारक उपायों की आवश्यकता है।

राष्ट्रिय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर नारे 2019 | National Pollution Control Day Poster, Slogan in Hindi

National Pollution Control Day Essay in Hindi

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस मनाने के पीछे उद्देश्य औद्योगिक आपदा के प्रबंधन और नियंत्रण के प्रति लोगों के बीच जागरूकता फैलाना, साथ ही हवा, पानी और मिट्टी को प्रदूषित होने से बचाना और उनमें होने वाले प्रदूषण की रोकथाम के लिए अलग-अलग तरह से समाज में जागरूकता फैलाना है। लेकिन क्या आप जानते हैं इस दिन का कनेक्शन भोपाल गैस त्रासदी से भी जुड़ा हुआ है। आइए जानते हैं आखिर क्या है वो कनेक्शन।

pollution control day nibandh

दरअसल, देश में हर साल 2 दिसंबर को नेशनल पलूशन कंट्रोल डे उन लोगों की याद में मनाया जाता है, जो 2-3 दिसंबर, 1984 भोपाल गैस त्रासदी के शिकार हो गए थे।

संविधान दिवस पर निबंध 2019 | Constitution Day of India Essay in Hindi

इस दिन मिथाइल आइसोसाइनेट गैस (मिक) के रिसाव की वजह से तकरीबन 3787 लोग मारे गए थे। इतना ही नहीं, लाखों लोग बुरी तरह से प्रभावित भी हुए थे। आज भी वहां के लोगों पर इस हादसे का असर साफ देखा जा सकता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को प्रदूषण नियंत्रण के प्रति जागरूक करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here