Home हेल्थ चमकी बुखार से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय और नुस्के Chamki...

चमकी बुखार से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय और नुस्के Chamki Fever

23
0

चमकी बुखार से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय और नुस्के Chamki Fever :- बिहार में ‘चमकी’ बुखार की वजह से अब तक 100 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है। बिहार में रहने वाले परिवारों का ‘चमकी’ बुखार की वजह से रो-रो का बुरा हाल है। चमकी बुखार यानि की एईस (एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम) से बिहार का मुजफ्फरपुर सहित कई जिले बुरी तरह प्रभावित है। इस बुखार से करीब 500 बच्चे इस समय पीड़ित है जो जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे है। बिहार में चमकी और भीषण गर्मी से कई सौ लोगों की जान चली गई है। चमकी बुखार बच्चो क अपनी चपेट में ले रहा है। ऐसे में इस बुखार से बचने के लिए कुछ उपाय सुझाए गए है। जिन्हे करने से आपके बच्चे चमकी की चपेट में आने से बच सकते है।

खूब पानी पियें

भीषण गर्मी की वजह से शरीर से पसीना बहना आम है लेकिन इससे आपके शरीर में डिहाइड्रेशन, लो ब्लड प्रेशर, सिरदर्द, थकान, भूख में कमी जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं। चमकी बुखार के लक्षण भी कुछ इसी तरह के है इसलिए बच्चों में पानी की कमी नहीं होने दें। बच्चों को समय-समय पर पानी पिलाते रहे। इससे उन्हें हाइड्रेट रहने और बीमारियों से बचने में मदद मिलेगी।

चमकी बुखार के उपाय

बच्चों को गर्मी से बचाएं

देशभर में इस समय भीषण गर्मी पड़ रही है। जिसका सबसे ज्यादा असर बच्चों पर पड़ रहा है। अधिक गर्मी से शरीर से ज्यादा पसीना आने लगता है और यही वजह की शरीर में पानी की कमी होने लगती है। तेज धूम की वजह से सनबर्न का भी खतरा रहता है। ऐसे में बच्चों को तेज धूम में बाहर ना जाने दें और उन्हें ठंडी चीजें खिलाएं।

शरीर को रखें ठंडा

भीषण गर्मी से बचने के लिए अपने शरीर को ठंडा रखने की कोशिश करे। गर्मी में अपने बच्चों को 2 से 3 बार नहलाएं। बच्चों को ठंडी चीजे खाने के लिए दें। चीनी-नमक का घोल, छाछ, शिकंजी के अलावा तरबूज, खरबूज, खीरे जैसी चीजों का खूब सेवन करवाएं। बच्चों को बुखार होने पर पेरासिटामोल की गोली या फिर डॉक्टर को दिखाएँ।

चमकी बुखार के नुस्के

ओआरएस का घोल भी है जरूरी

वैसे तो आप बच्चों को तापमान बनाये रखने के लिए चीनी-नमक का घोल, छाछ, शिकंजी के अलावा तरबूज, खरबूज दे सकते हैं लेकिन इनके साथ आप उन्हें ओआरएस का घोल भी दे सकते हैं। इससे बच्चों को न सिर्फ ऊर्जा मिलती है बल्कि शरीर हाइड्रेट रहता है और गर्मी से बचाव होता है।

इन बातों का रखे ध्यान

– चमकी बुखार के लक्षणों में लगातार कुछ दिनों तक तेज बुखार आना

– शरीर में कभी ना ख़त्म होने वाली कमजोरी

– शरीर में एंठन होना

– सुस्ती, सिरदर्द, उल्टी, कब्ज, बेहोशी, कोमा और लकवा आदि शामिल हैं।

इस तरह का कोई भी लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।