Home त्यौहार महापरिनिर्वाण दिवस पर कोट्स 2019 | Dr. Ambedkar Mahaparinirvan Diwas Quotes in...

महापरिनिर्वाण दिवस पर कोट्स 2019 | Dr. Ambedkar Mahaparinirvan Diwas Quotes in Hindi

137
0

महापरिनिर्वाण दिवस पर कोट्स 2019 | Dr. Ambedkar Mahaparinirvan Diwas Quotes in Hindi, Marathi: भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी और संविधान निर्माता डॉ भीमराव अम्बेडकर जी का आज 6 दिसंबर 1956 को निधन हुआ था। उनकी पुण्यतिथि को देश में महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। भारत की आजादी और आजाद देश की समस्याओं के समाधान के लिए भीमराव जी ने काफी काम किया। देश के दलित समाज की स्तिथि को सुधारने के लिए उन्होंने कई आंदोलन किए। दलित समाज के लोग उन्हें भगवान के समान मानते है। आज महापरिनिर्वाण दिवस पर हम उनसे जुड़े कुछ कोट्स लेकर आए है जिन्हें आप उनकी पुण्यतिथि पर अपने दोस्तों और परिजनों संग शेयर कर इस दिन की के बारे में उन्हें याद दिला सकते है।

महापरिनिर्वाण दिवस पर कोट्स 2019 | Dr. Ambedkar Mahaparinirvan Diwas Quotes in Hindi
महापरिनिर्वाण दिवस पर कोट्स 2019 | Dr. Ambedkar Mahaparinirvan Diwas Quotes in Hindi

महापरिनिर्वाण दिवस पर कोट्स 2019

भीमराव अम्बेडकर पुण्यतिथि को देशभर में महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन अम्बेडकर जी को याद कर उन्हें किया जाता है। देश की भलाई के लिए अम्बेडकर जी के योगदान के बारे में हर भारतीय को बताएं और उनसे जुड़ी बातों और किस्सों को शेयर करें।

– मनुष्‍य एवं उसके धर्म को समाज के द्वारा नैतिकता के आधार पर चयन करना चाहिये। अगर धर्म को ही मनुष्‍य के लिए सब कुछ मान लिया जायेगा तो किन्‍ही और मानको का कोई मूल्‍य नहीं रह जायेगा।

– मन की स्‍वतंत्रता ही वास्‍तविक स्‍वतंत्रता है।

– गुलाम बन कर जिओगे तो कुत्ता समझ कर लात मारेगी ये दुनिया। नवाब बन कर जिओगे तो शेर समझ कर सलाम ठोकेगी ये दुनिया।

– न्‍याय हमेशा समानता के विचार को पैदा करता है।

– स्‍वतंत्रता का रहस्‍य, साहस है और साहस एक पार्टी में व्‍यक्तियों के संयोजन से पैदा होता है।

डॉ. भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि पर पढ़िए! उनसे जुड़ी 10 खास बातें

Dr. Ambedkar Mahaparinirvan Diwas Quotes in Hindi

– महात्‍मा आये और चले गये परन्‍तु अछुत, अछुत ही बने हुए हैं।

– आज भारतीय दो अलग-अलग विचारधाराओं द्वारा शाशित हो रहे हैं। उनके राजनीतिक आदर्श जो संविधान के प्रस्‍तावना में इंगित हैं वो स्‍वतंत्रता, समानता, और भाई-चारे को स्‍थापित करते हैं, और उनके धर्म में समाहित सामाजिक आदर्श इससे इनकार करते है।

– मैं किसी समुदाय की प्र‍गति महिलाओं ने जो प्रगति हांसिल की है उससे मापता हूँ।

– शिक्षा जितनी पुरूषों के लिए आवशयक है उतनी ही महिलाओं के लिए।

– लोग और उनके धर्म सामाजिक मानकों द्वारा सामाजिक नैतिकता के आधार पर परखे जाने चाहिए। अगर धर्म को लोगो के भले के लिए आवशयक मान लिया जायेगा तो और किसी मानक का मतलब नहीं होगा।

– हिंदू धर्म में, विवेक, कारण और स्‍वतंत्र सोच के विकास के लिए कोई गुंजाइश नहीं हैं।

– मैं तो जीवन भर कार्य कर चुका हूँ अब इसके लिए नौजवान आगे आए।

डॉ बाबा साहेब अम्बेडकर पर शायरी 2019 | Bhimrao Ambedkar Shayari in Hindi

आज अम्बेडकर जी पुण्यतिथि है जिसे देश महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाता है। इस खास दिन पर उनसे जुड़े ये कोट्स को दोस्तों पर परिजनों संग शेयर कर उन्हें भी महापरिनिर्वाण दिवस के बारे में बताएं। इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here