Home त्यौहार एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019 | APJ Abdul Kalam Speech in...

एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019 | APJ Abdul Kalam Speech in Hindi

186
0

एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019 | APJ Abdul Kalam Speech in Hindi (Bhashan): भारत के पूर्व राष्ट्रपति ए. पी. जे. अब्दुल कलाम 15 अक्टूबर 1931 को रामेश्वरम, तमिलनाडु में हुआ था। उनके पिता का नाम जैनुलअबिदीन जो पेशे से एक नाविक थे और उनकी माता का नाम आशिअम्मा जो ग्रहणी थी। अब्दुल कलाम ने अपने बचपन के दिनो से ही कड़ी मेहनत की और आगे चलकर वह देश के राष्ट्रपति भी बने। भारत के राष्ट्रपति बनने से पहले उन्हें भारत की रक्षा और वैज्ञानिक तकनीक में काफी बड़ा योगदान दिया। यही वजह आज हर एक भारतीय को उनपर गर्व है और वह उन्हें प्यारे से मिसाइल मेन के नाम से पुकारते है। आज उनकी जयंती पर देशभर में स्कूल, कॉलेज और अन्य जगहों पर भाषण यानि स्पीच प्रतियोगिता का योजन होता है। इसलिए हम आप सभी के लिए अब्दुल कलाम पर भाषण लेकर आए है।

एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019 | APJ Abdul Kalam Speech in Hindi
एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019 | APJ Abdul Kalam Speech in Hindi

एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019

अब्दुल कलाम जी युवाओं को कुछ कर गुजरने के लिए हमेशा प्रेरणा देते थे। वह छात्रों को हमेशा अपने सपने को पूरा करने के लिए पूरी लगन से मेहनत करने और देश के प्रति योगदान देने के लिए प्रेरित करते थे। आज अब्दुल कलाम जी पर भाषण को पढ़कर आपको भी उनसे कुछ सीखने को मिलेगा।

अगर आप सूर्य की तरह चमकना चाहते हैं तो पहले उस सूर्य की तरह जलना सीखिए. फ्रेंड्स इस दुनिया में हर कोई सपने देखता है चाहे वो छोटे से छोटा इंसान हो यां बड़े से बड़ा इंसान. क्यूंकि भगवान् ने इंसान को बनाया ही ऐसा है की हमेशा कुछ न कुछ सपना देखता रहे. कुछ लोगों के सपनों का कोई मतलब होता है जबकि कुछ लोग बेमतलब के सपने देखते हैं.

Abdul Kalam Bhashan

लेकिन ये सपने ही हैं जो हर इंसान की किस्मत को अलग बना देते हैं, सपने इंसान का जीवन बदल देते हैं, किसी गरीब को बहुत ही कामयाब और अमीर बना देते हैं तो किसी बेहद अमीर को सड़क पर लाकर खड़ा कर देते हैं. सफ़लता और असफ़लता ये दोनों शब्द हमारे देखे गये सपनों से ही निकलते हैं,

Speech on APJ Abdul Kalam pdf download

रामानुजम, अल्बर्ट आइंस्टीन, स्टीफेन हाकिंग, ऐसी हजारों एक्साम्पल्स हैं इस दुनिया में की कैसे कुछ अपाहिज या मंद्बुधि कहे जाने वाले बच्चे इस दुनिया के महानतम अविष्कारक बन गये. इन लोगों को इस पूरी दुनिया से अलग करने वाले इनके सपने ही थे. हजारों मुश्किलों को सहते हुए इन्होने इस दुनिया में खुद को स्थापित किया.

इसलिए फ्रेंड्स अगर आपका कोई सपना है – अगर आप भी इस आकाश में सूर्य की तरह चमकना चाहते हैं तो फिर उस सूर्य की तरह से जलाना भी सीखो. बिना मेहनत और लगन के कुछ हासिल नहीं होता. एक्साम्स हो यां जिंदगी अगर – टॉप करना चाहते हो तो आलस छोड़ना होगा- सुबह जल्दी उठना होगा – रात को देर से सोना होगा- खुद को तयार करना होगा की मुझे टॉप करना है, इस पर फोकस्ड रहना होगा. हर वो चीज – मोबाइल, इन्टरनेट, टीवी, टाइम पास दोस्त, आपकी गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड, सबको जो भी आपका ध्यान भटकाता हैं आपको डिस्ट्रैक्ट करता है उन सबको – छोड़ना होगा.
तब कहीं जाकर आप चमकोगे- उस सूर्य की तरह…..

Abdul Kalam Speech in Hindi

आज 5 सितंबर है और हर साल की तरह हम शिक्षक दिवस मनाने के लिए यहां इकट्ठे हुए हैं। इस अवसर पर इस कार्यक्रम की मेजबानी करते हुए मैं बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूँ। आज शिक्षक दिवस के दिन, मैं उन महान व्यक्तित्वों में से एक के बारे में बात करना चाहता हूं। जो है डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम, जिनकी मैं सदैव प्रशंसा करता हूं औऱ मुझे यकीन है कि उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए हर कोई इस महान मिसाइल मैन की प्रशंसा करता है।

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम मेरे लिए एक महान प्रेरणा स्त्रोत रहे है और उनकी पूरी जीवन यात्रा ने मेरे जीवन को सकारात्मक रुप से परिवर्तित करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

हम सभी जानते हैं कि डॉ. कलाम एक भारतीय वैज्ञानिक और एक उदार राजनेता थे। जिन्होंने 2002 से 2007 तक राष्ट्रपति के रूप में भारत की सेवा की। डॉ. कलाम 15 अक्टूबर, 1931 को एक मुस्लिम परिवार में पैदा हुए थे। उनका पूरा नाम अवल पाकिर जैनुलबदीन अब्दुल कलाम है। डॉ कलाम एक तेज छात्र और आज्ञाकारी बालक थे, जिन्होंने आजीविका अर्जित करने में अपने परिवार की मदद की। उनका जन्म भारत के दक्षिण-पूर्वी तट पर स्थित धनुष्कोदी में हुआ था। एक बच्चे के रूप में डॉ. कलाम ने जब आकाश में पक्षियों को उड़ते देखा तब उनके मन में हवाई यात्रा के प्रति आकर्षण पैदा हुआ। डॉ. कलाम के विमान उड़ाने का शौक और भी दृढ हो गया, जब उन्होंने समाचार पत्र में ब्रिटिश लड़ाकू विमान के बारे में एक लेख देखा।

APJ Abdul Kalam Speech in Bengali

उनके पिता का पेशा नाव बनाने और उसे किराए पर देने का था। कलाम एक बहुत ही उज्ज्वल और मेहनती छात्र थे। अपने पिता का आर्थिक रुप से समर्थन करने के लिए वे अपने इलाके में समाचार पत्र वितरित किया करते थे, लेकिन वे हमेशा अध्ययन के प्रति रुचि रखते थे; वे बहुत ही होनहार छात्र थे, उन्हें विज्ञान और गणित में अधिक रुचि थी। स्कूल खत्म होने के बाद डॉ. कलाम सेंट जोसेफ कॉलेज गए और एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में डिग्री अर्जित करने के लिए उन्होंने मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में दाखिल लिया।

एपीजे अब्दुल कलाम पर निबंध 2019 | A.P.J Abdul Kalam Essay in Hindi

वे हमेशा से एक होनहार छात्र थे और उन्होंने अपने स्कूल तथा कॉलेज में जितना संभव हो सके उतना ज्ञान हासिल किया। डॉ. कलाम स्नातक स्तर की पढ़ाई पूरी करने के बाद भारत के रक्षा विभाग में भर्ती हो गए। भारत की परमाणु क्षमता के विकास में वे प्रमुख व्यक्तियों में से एक थे। उन्होंने अपने योगदान के लिए कई पुरस्कार और सम्मान अर्जित किया। 1998 में विभिन्न सफल परीक्षणों के लिए राष्ट्रीय नायक कलाम को ‘मिसाइल मैन’ का खिताब दिया गया था। डॉ. कलाम मई 1998 में शुरू किए गए पोखरण-द्वितीय परीक्षणों में एक प्रमुख व्यक्ति थे। पोखरण-2 परीक्षण के समय राजस्थान के रेगिस्तान में कुल 5 परमाणु उपकरणों का विस्फोट हुआ था।

 APJ Abdul Kalam Short Speech in English for Students

हालांकि 2002 में राजनीति ने कभी भी डॉ. कलाम को लुभाया नहीं, फिर भी भारत की सत्ताधारी पार्टी नेशनल डेमोक्रेटिक एलायंस ने उन्हें राष्ट्रपति पद के लिए खुद को नामित करने का अनुरोध किया। एनडीए के समर्थन से, डॉ कलाम ने चुनाव जीता और भारत के 11वें राष्ट्रपति बन गये। एक राष्ट्रपति के रूप में, डॉ कलाम एक बहुत ही सरल जीवन जीते थे और युवा छात्रों को सफल जीवन जीने और देश की सेवा करने के लिए सदैव प्रेरित करते थे। लोगों के राष्ट्रपति के रूप में सम्मानित, डॉ कलाम ने अपने पांच साल के राष्ट्रपति पद के दौरान युवा छात्रों और देश भर के लोगों के साथ 500,000 से अधिक बैठकें आयोजित की। डॉ. कलाम की इस लोकप्रियता ने उन्हें वर्ष 2003 और 2006 के लिए एमटीवी द्वारा आयोजित ‘युवा चिह्न’ का पुरस्कार प्रदान किया।

डॉ. कलाम ने भारत को 1 सत्र तक राष्ट्रपति के रूप में सेवा दी और 27 जुलाई, 2015 को हार्ट अटैक के कारण उनकी मृत्यु हो गई। वे कई विश्वविद्यालयों में एक अतिथि प्राध्यापक तथा प्रेरक शिक्षक की भूमिका निभाते थे।

अब्दुल कलाम की कविता 2019 | APJ Abdul Kalam Poem in Hindi

डॉ. कलाम सभी के लिए एक आदर्श रहे और प्रत्येक व्यक्ति उनकी इन उपलब्धि, योगदान और सादगी के लिए उनका सम्मान करते है। मैं हर छात्र को डॉ कलाम के मार्ग का पालन पर चलने और पूरे सम्मान से जीवन जीने के लिए, अपील करता हूं।एपीजे अब्दुल कलाम पर भाषण 2019 | APJ Abdul Kalam Speech in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here