Ganesh Chaturthi 2018: जाने कब है गणेश चतुर्थी, शुभ मुहूर्त, कैसे करें...

Ganesh Chaturthi 2018: जाने कब है गणेश चतुर्थी, शुभ मुहूर्त, कैसे करें गणपति की स्थापना

0
SHARE

Ganesh Chaturthi 2018: जाने कब है गणेश चतुर्थी, शुभ मुहूर्त, कैसे करें गणपति की स्थापना भारत में गणेश चतुर्थी का त्यौहार हर साल बड़े ही धूम-धाम से मनाया जाता है| देशभर में रहने वाले हिन्दू धर्म के लोग गणेश चतुर्थी का काफी उत्साह के साथ इंतजार करते है| हर साल की तरह इस साल गणेश चतुर्थी का त्यौहार 13 सितंबर को मनाया जाएगा| अब गया होगा की गणेश चतुर्थी कब है? 13 से शुरू हो रही गणेश चतुर्थी पर पूरे विधि विधान के मुहूर्त पर भगवान गणेश की पूजा अर्चना कर भगवान से आशीर्वाद प्राप्त करे| यहाँ जाने गणेश चतुर्थी का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व और कैसे करें गणपति जी की स्थापना के बारे में|

Ganesh Chaturthi 2018: जाने कब है गणेश चतुर्थी, शुभ मुहूर्त, कैसे करें गणपति की स्थापना

गणेश चतुर्थी कब है?

हिन्दू धर्म के मुताबिक गणेश चतुर्थी भाद्रपद यानि की भादो माह की शुक्ल पक्ष चतुर्थी को मनाई जाती है| गणेश चतुर्थी भगवान गणेश के जन्मोत्सव के दिन मनाई जाती है| इंग्लिश कैलेंडर के मुताबिक हर साल गणेश चतुर्थी का त्यौहार अगस्त या सितंबर के महीने में मनाई जाती है| इस साल गणेश चतुर्थी 13 सितंबर को है|

गणेश चतुर्थी का क्या महत्व है?

हिंदी धर्म में भगवान गणेश का एक विशेष महत्व है| हिन्दू धर्म किसी भी शुभ काम में सबसे पहले भगवान श्री गणेश जी की पूजा करना जरुरी है| किसी भी नए काम शुरुआत भगवान गणेश की वंदना के साथ ही शुरू की जाती है| यही वजह है की गणेश चतुर्थी जो भगवान गणेश का जन्मोत्सव है पूरे देशभर में हर्षोलास के साथ मनाया जाता है| गणेश चतुर्थी का त्यौहार पूरे 10 दिन यानि की अनंत चतुर्दर्शी तक मनाया जाने की परम्परा है|

गणेश चतुर्थी की तिथ‍ि और स्‍थापना का शुभ मुहूर्त
गणेश चतुर्थी तिथि प्रारंभ:
 12 सितंबर 2018 को शाम 4 बजकर 07 मिनट.
गणेश चतुर्थी तिथि समाप्त: 13 सितंबर 2018 को दोपहर 02 बजकर 51 मिनट.

गणपति की स्‍थापना और पूजा का समय: 13 सितंबर की सुबह 11 बजकर 09 मिनट से 01 बजकर 35 मिनट तक.
अवधि: 2 घंटे 26 मिनट

12 सितंबर को चंद्रमा नहीं देखने का समय: शाम 04 बजकर 07 मिनट से रात 08 बजकर 48 मिनट तक
अवधि: 04 घंटे 35 मिनट.
13 सितंबर को चंद्रमा नहीं देखने का समय: सुबह 09 बजकर 33 मिनट से रात 09 बजकर 23 मिनट तक.
अवधि: 11 घंटे 50 मिनट.

गणपति जी की स्थापना कैसे करें?

गणपति जी की स्थापना गणेश चतुर्थी के दिन मध्‍याह्न में की जाती है| ऐसी मान्यता है की भगवान गणेश का जन्म मध्‍याह्न काल में हुआ था| मान्यता के मुताबिक इस दिन चन्द्रमा को देखना अशुभ होता है| जानिए! गणपति स्थापना के सही तरीके के बारे में|

– अपने घर या ऑफिस या दुकान में बाजार से बनी हुई या खुद की बनाई हुई गणपति जी की मूर्ति की स्थापना कर सकते है|

– गणपति जी की स्थापना करने से पहले नाह धोकर शुद्ध होकर नए कपडे पहने|

– फिर आने माथे पर तिलक लगाए और पूर्व दिशा की ओर मुँह करके आसान पर बैठ जाए|

– पत्थर के आसन पर नहीं बैठे|

– फिर भगवान गणेश जी मूर्ति को किसी लकड़ी के पटरे या गेहूं, मूंग, ज्‍वार के ऊपर लाल वस्‍त्र बिछाकर रखे|

– गणपति की प्रतिमा के दाएं-बाएं रिद्धि-सिद्धि के प्रतीक स्‍वरूप एक-एक सुपारी रखें|