आज ही के दिन 1983 में पहली बार वर्ल्ड कप जीत भारत...

आज ही के दिन 1983 में पहली बार वर्ल्ड कप जीत भारत ने रचा था इतिहास

0
SHARE

आज ही के दिन 1983 में पहली बार वर्ल्ड कप जीत भारत ने रचा था इतिहास: भारतीय क्रिकेट के इतिहास में आज का दिन यानि की 25 जून का दिन काफी यादकर है| भारत ने आज ही के दिन साल 1983 में लॉर्ड्स के मैदान पर इतिहास रचा था| भारत ने इस मैदान पर खेले जा रहे 1983 विश्व कप में दो बार की विश्व चैम्पियन वेस्टइंडीज को मात देकर यह इतिहास लिखा| भारत ने क्रिकेट वर्ल्ड कप 1983 कपिल देव की कप्तानी के जीता| कपिल देव ने इस टूर्नामेंट में गेंद और बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया था|

आज ही के दिन 1983 में पहली बार वर्ल्ड कप जीत भारत ने रचा था इतिहास

उस समय वनडे मैच 60 ओवर के हुआ करते थे| भारत ने 1983 के वर्ल्ड कप फाइनल में टॉस हर पहले बल्लेबाजी की और पूरी ताम 183 रन बना कर आल आउट हो गई| इस मैच में भारत की ओर से कृष्णमाचारी श्रीकांत ने सर्वाधिक 38 रनों की पारी खेली| लक्ष्य का पीछा करने उत्तरी वेस्टइंडीज की टीम की अच्छी शुरुआत रही और टीम ने एक विकेट के नुकसान पर 50 रन बनाए|

फीफा वर्ल्ड कप 2018 पॉइंट्स टेबल

लेकिन इसके बाद मैच में बड़ा बदलाव आया और मोहिंदर अमरनाथ और मदनलाल की जबरदस्त गेंदबाजी के सामने कोई वेस्टइंडीज का खिलाडी ज्यादा देर तक टिक ही नहीं सका| पूरी टीम 140 रन बनाकर आल आउट हो गई| इस मैच में भारत ने 43 रनों से जीत दर्ज कर इतिहास रच दिया| क्रिकेट के ऐतहास में पहला मौका था जब भारत ने यह ख़िताब अपने नाम किया|

इस मैच में भारत की ओर से मोहिंदर अमरनाथ ने 12 रन देकर 3 विकेट लिए और मदन लाल ने 31 रन देकर 3 विकेट लेने में सफल रहे| वेस्टइंडीज की तरफ से विवियन रिचर्ड्स ने सबसे ज्यादा 33 रन बनाए।

मोहिंदर अमरनाथ को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया| उन्होंने अपने से 26 रनों की एक अच्छी पारी भी खेली| इस पूरे टूर्नामेंट में कपिल देव ने गेंद और बल्ले दोनों से अच्छा प्रदर्शन किया| कपिल ने इस टूर्नामेंट में 303 रन बनाए जिसमें एक शतक शामिल था, जबकि 12 विकेट भी लेने में सफल रहे|