आइए जानते है! सांसदों को मिलने वाले वेतन और भत्तों के बारे...

आइए जानते है! सांसदों को मिलने वाले वेतन और भत्तों के बारे में

0
SHARE

आइए जानते है! सांसदों को मिलने वाले वेतन और भत्तों के बारे में: भारत के लोकतांत्रिक देश और भारत में सभी कार्य संसद के द्वारा जाते है| संसद में बैठने वाले लोगों को संसद कहा जाता है| यही संसद देश को कैसे चलाना है? कौन-सा कानून बनाना है? ये सब कार्य करते है| लेकिन क्या आप जानते है लोकसभा या फिर राज्यसभा के सदस्य को कितनी सैलरी मिलती है? क्या आप जाने है सांसदों को कितनी प्रकार की सुविधा मिलती है? क्या आप जानते है की सांसदों को कितने प्रकार के भत्ते मिलते है|

आइए जानते है! सांसदों को मिलने वाले वेतन और भत्तों के बारे में
वैसे तो सांसदों का काम जनता की सेवा करना है और समाजसेवा में कुछ भी नहीं मिलता, लेकिन समाजसेवा से किसी का पैट नहीं भरता और ना ही परिवार चलता है| परिवार चलाने के लिए पैसों की जरुरत होती है| एक ऐसा भी समय था जब भारत में सांसदों को कोई सैलरी नहीं मिलती थी लेकिन कई बार सांसदों को आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ा और ऐसी समस्या को ध्यान में रखते हुए संसद ने सांसदों का वेतन और उनकी जरुरत के हिसाब से तय किया| जिसे समय समय पर संसद के द्वारा गठित की गई कमिटी के द्वारा बढ़ाया गया|

कर्नाटक ओपिनियन पोल 2018, एग्जिट पोल रिजल्ट, न्यूज़ सर्वे

– लोकसभा और राज्यसभा के सांसद को हर महीने 50 रूपये का वेतन मिलता है|

– जिस दिन सांसद संसद में उपस्थित होता है और रजिस्टर पर हस्ताक्षर करता है, उसे उस दिन 2000 रुपये का अलग से भत्ता मिलता है|

– एक सांसद को हर महीने 45000 रुपये भत्ता मिलता है|

– ऑफिस के काम के लिए एक सांसद को 45000 रुपये हर महीने मिलते है, जिसमे से 15 हज़ार रूपये स्टेशनरी के लिए तो वही एक सहायक रखने के लिए 30 हजार रूपये दिए जाते है|

– सांसद निधि (मेंबर ऑफ पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलपमेंट) स्कीम के तहत सांसद अपने क्षेत्र में 5 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष का खर्च करने की गुजारिश कर सकता है|

– सांसदों को हर तीन महीने में 50 हजार रुपये यानी करीब 600 रुपये रोज के हिसाब से के कपड़े धुलवाने के लिए दिए जाते है|

– सांसदों को हवाई यात्रा पर केवल 25 प्रतिशत ही देना होता है| इस छूट के साथ एक सांसद सालभर में 34 हवाई यात्राएं कर सकता है| यह सुविधा पति/पत्नी दोनों को मिलती है|

– ट्रेन में सांसद फर्स्ट क्लास एसी में अहस्तांतरणीय टिकट पर यात्रा कर सकता है| उन्हें एक विशेष पास मिलता है|

– एक सांसद को सड़क मार्ग से यात्रा करने पर 16 रुपये प्रतिकिलोमीटर यात्रा भत्ता दिया जाता है|