कर्नाटक फ्लोर टेस्ट लाइव अपडेट: कांग्रेस पार्टी के रमेश कुमार बने स्‍पीकर,...

कर्नाटक फ्लोर टेस्ट लाइव अपडेट: कांग्रेस पार्टी के रमेश कुमार बने स्‍पीकर, जल्द होगा बहुमत परिक्षण

0
SHARE

कर्नाटक फ्लोर टेस्ट लाइव अपडेट: कांग्रेस पार्टी के रमेश कुमार बने स्‍पीकर, जल्द होगा बहुमत परिक्षण: कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी शुक्रवार यानि की आज 25 मई को कर्नाटक विधानसभा में बहुमत परीक्षण का सामना करेंगे। होटल में ठहरे हुए कांग्रेस और जेडीएस पार्टी के विधायक विधानसभा पहुँच गए है और उन्होंने विधानसभा के अंदर कांग्रेस के संसदीय दल की बैठक में हिस्सा लिया। कांग्रेस पार्टी के रमेश कुमार को कर्नाटक विधानसभा का स्पीकर चुन लिया गया है।

कर्नाटक फ्लोर टेस्ट लाइव अपडेट: कांग्रेस पार्टी के रमेश कुमार बने स्‍पीकर, जल्द होगा बहुमत परिक्षण

कर्नाटक फ्लोर टेस्ट लाइव अपडेट

बता दें की कांग्रेस-जेडीएस के गठबंधन वाली सरकार के दल के मुख्य नेता कुमारस्वामी ने बुधवार को ही मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। शपथ ग्रहण के मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी समेत तमाम विपक्षी दलों के प्रमुख नेता मौजूद थे। शपथ लेने के बाद सीएम कुमारस्वामी बहुमत परीक्षण में सफलता को लेकर काफी आश्वस्त नजर आए।

कनाडा: भारतीय रेस्टोरेंट में धमाका, 15 लोग घायल, 3 की हालत गंभीर

बहुमत परिक्षण से पहले ही ब्ज्प स्पीकर पद के लिए अपने कैंडिडेट को खड़ा किया था| बता दें की बीजेपी ने पूर्व कानून मंत्री सुरेश कुमार को स्पीकर के पद के लिए खड़ा किया था| वही जेडीएस-कांग्रेस की ओर से पूर्व स्वास्थ्य मंत्री रमेश कुमार को इस पद के लिए खड़ा किया गया था| सदन की शुरूआती कार्यवाही में ही बीजेपी ने स्पीकर पद के लिए अपनी दावेदारी पर से हाथ खड़े कर दिए जिससे कांग्रेस पार्टी का रास्ता साफ हो गया| बता दें की फ़िलहाल नई सरकार के मंत्रिमंडल में केवल उपमुख्यमंत्री डॉ. जी परमेश्वर शामिल हैं।

Assam HSLC 10th Result 2018: असम बोर्ड 10वीं कक्षा के नतीजे घोषित

कुछ समय पहले सम्पन हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा 104 सीटें जीतकर राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी, लेकिन वह बहुमत से फिर भी दूर ही थी| वही कांग्रेस को 78 तो वही जेडीएस को 37 सीटें मिली थीं। कर्नाटक के राज्यपाल ने भाजपा को सबसे बड़े दल होने के नाते सरकार बनाने का न्यौता दिया था, लेकिन पार्टी सदन में बहुमत साबित करने में असफल रही|