विराट की ये Hypoxic ट्रैंगिन न्यू ज़ीलैण्ड की साँसे रोक देगी

विराट की ये Hypoxic ट्रैंगिन न्यू ज़ीलैण्ड की साँसे रोक देगी

0
SHARE

विराट की ये Hypoxic ट्रैंगिन न्यू ज़ीलैण्ड की साँसे रोक देगीविराट की बल्लेबाजी से न्यू ज़ीलैण्ड कैसे चकरायेगा यह तोह बाद में देखने को मिलेगा। लेकिन अभी जो विराट कर रहे हैं उसपे गौर फरमाना बेहद जरूरी है।

आपको बता दें की विराट कर रहे हैं जीत की तैयारी। तैयारी न्यू ज़ीलैण्ड पर जीत का झंडा फहराने की। विराट इंडिया – न्यू ज़ीलैण्ड की होनी वाली टेस्ट सीरीज पर पूरा फोकस बनाये हुए हैं। नेट में तो वह प्रैक्टिस करते ही हैं साथ ही साथ गयम में कार्डियो और वेट की एक्सरसाइज को भी पूरी लगन एवं निष्ठा से करते हैं। यही कारण है की उनकी गिनती दुनिया के फिट्टेस्ट खिलाडियों में की जाती है।

virat15

विराट की ट्रेनिंग का एक 22 सेकंड का विडियो सामने आया है, जिसमें वह मास्क पहनकर ट्रेडमिल पर दौड़ते हुए दिख रहे हैं। दूसरी तरफ मास्क पहने साइकिलिंग करते दिखई दे रहे हैं।

आप सोच रहे होंगे की आखिर विराट इसमें क्या कर रहे हैं ? उन्होंने अपने मुह पर मास्क क्यों पहना हुआ है ? आपको बता दें जो विराट कर रहे हैं उसे Hypoxic ट्रेनिंग कहते हैं।

क्या होती है Hypoxic ट्रेनिंग ?


इस ट्रेनिंग के जरिए खिलाड़ी अपनी काबिलियत बढाते हैं। हाइपोक्सिक ट्रेनिंग से शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं बढ़तीं हैं और खिलाड़ी का स्टेमिना भी पहले से बेहतर हो जाता है।इसका असर उंचे पहाड़ में चढ़ने जैसा होता है। जहां कम ऑक्सिजन की वजह से शरीर को ऑक्सिजन के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। ऐसी ट्रेनिंग स्विमर और स्काईडाइवर्स करते हैं।

सवाल ये है कि विराट को इस ट्रेनिंग की जरूरत क्यों है। विराट दुनिया के सबसे फिट क्रिकेटर्स में से एक हैं। उनकी फिटनेस फील्ड पर बल्लेबाजी और फील्डिंग के समय मददगार साबित होती है।

विराट ने अपने अतरराष्ट्रीय करियर के करीब 53 % रन दौड़ कर पूरे किए हैं। उन्होंने अपने करियर में 6 हजार से ज्यादा रन दौड़ कर बनाए हैं। इसके अलावा उन्हें टेस्ट मैच में फील्डिंग करते हुए भी हर दिन में करीब 90 ओवर मैदान पर बिताने पड़ते हैं।

अगर खिलाड़ी फिट ना हो तो ये नाममुकिन है और विराट इसलिए जितनी मेहनत नेट्स में करते हैं उतना ही जोर जिम में कार्डियो और वेट ट्रेनिंग में दिखाते हैं।विराट खुद कह चुके हैं कि जब से उन्होंने अपनी फिटनेस पर ध्यान दिया है, उनकी बल्लेबाजी भी बेहतर हो गई है और अब न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले टेस्ट सीरीज के लिए भी उनकी तैयारी जोरों पर है।

विराट फिलहाल मैदान से दूर हैं लेकिन अपने लक्ष्य पर उनका पूरा ध्यान है। आखिरकार बात जब जंग जीतने की हो तो टीम का कप्तान तैयारियों में पीछे कैसे रह सकता है।