शिलांग हिंसा का दूसरा दिन, कर्फ्यू के बाद भी हिंसा जारी, एसपी...

शिलांग हिंसा का दूसरा दिन, कर्फ्यू के बाद भी हिंसा जारी, एसपी पर रॉड से हमला

0
SHARE

शिलांग हिंसा का दूसरा दिन, कर्फ्यू के बाद भी हिंसा जारी, एसपी पर रॉड से हमला: मेघालय की राजधानी शिलांग में आज दूसरे दिन भी कर्फ्यू लगा होने के बाद भी हिंसा जारी रही| बता दें की कल देर रात तक हुई उग्र हिंसा में एक दुकान और एक मकान में आग लगा दी गई| जबकि तकरीबन पांच वाहनों को आग के हवाले करने की भी खबर है| शिलांग हिंसा में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के घायल होने की खबर है|

शिलांग हिंसा का दूसरा दिन, कर्फ्यू के बाद भी हिंसा जारी, एसपी पर रॉड से हमला

ड्यूटी पर मौजूद एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस अधीक्षक (शहर) स्टीफन रिंजा पर एक रॉड से हमला किया गया| इस हमले वे घायल हो गए जिन्हे ईलाज के लिए शिलांग सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस हिंसा में अब तक पुलिसकर्मी समेत कम से कम 10 लोग घायल चुके है जिसके बाद इलाके में कथित तौर पर अवैध रूप से रह रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग ने तूल पकड़ लिया है। वहीं शहर के अशांत मोटफ्रन इलाके में पत्थरबाजों ने राज्य पुलिसकर्मियों पत्थर से हमला किया।

किसानों की हड़ताल पर केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह का शर्मनाक बयान

एक अधिकारी ने बताया कि दंगाईयों को हटाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े लेकिन दूसरे हिस्से के लोगों ने इसे पुलिस की गोलीबारी समझा। गुरुवार को थेम मेटोर इलाके में स्थानीय लोगों के एक ग्रुप ने बस के सहायक से कथित तौर पर मारपीट की जिसके बाद दो गुटों में झड़प शुरू हो गई थी।

यूपी के मुजफ्फरनगर में ससुर ने रिश्तों को शर्मसार करते बहु का किया रेप

अधिकारियों ने जानकारी दी कि इस झड़प ने तब और उग्र रूप धारण कर लिया जब सोशल मीडिया पर यह अफवाह फैलाई गई कि घायल सहायक की मौत हो गई जिससे थेम मेटोर में बस चालकों का समूह इकट्ठा हो गया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। बस सहायक और तीन अन्य घायलों को अस्पताल में ईलाज के लिए भर्ती करवाया गया और प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई। पूर्वी खासी हिल्स के जिला अधिकारियों ने बताया कि कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरे शहर में कल रात 10 बजे से सुबह के पांच बजे तक कर्फ्यू लगा दिया गया।

तीन स्थानीय लड़कों के साथ मारपीट के एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि उनके अन्य साथियों की तलाश जारी है| अफवाहों से हिंसा ना हो सके मद्देनजर आज इंटरनेट सेवा को रोक दिया गया है| राज्य सरकार इंटरनेट की बहाली पर आज कोई फैसला ले सकती है|