कन्नौज में पत्नी की पति ने गला दबाकर की हत्या, पुलिस ने...

कन्नौज में पत्नी की पति ने गला दबाकर की हत्या, पुलिस ने आरोपी पति को किया गिरफ्तार, जाँच शुरू

0
SHARE

कन्नौज में पत्नी की पति ने गला दबाकर की हत्या, पुलिस ने आरोपी पति को किया गिरफ्तार, जाँच शुरू: एक पत्नी को पति का दूसरे औरत से रिश्ते के शक में पति को टोकने की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी है| आपको बता दें की पत्नी के द्वारा अपने पति को किसी और औरत से रिश्ते नहीं रखने पर टोकने पर महिला के पति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी| पति हत्या करने के बाद आराम से घूमता रहा| पत्नी के मायके वालो को सूचना मिलने पर इस घटना की जानकारी सामने आई है| पुलिस को मामले की शिकायत मिलने पर पुलिस ने पति और देवर को हिरासत में ले लिया है|

कन्नौज में पत्नी की पति ने गला दबाकर की हत्या, पुलिस ने आरोपी पति को किया गिरफ्तार, जाँच शुरू

यह घटना सदर कोतवाली एरिया के डाक बंगला रोड पर रिटायर्ड दरोगा ईश्वरदयाल अपने परिवार के साथ रहते हैं। उनके छोटे बेटे की शादी अजय पाल की शादी चार साल पहले गुरसहायगंज निवासी सुलखान सिंह की बेटी सोनी से हुई थी| इनके तीन छोटे-छोटे बच्चे है| बताया जा रहा की बीते मंगलवार की रात को पति-पत्नी एक दावत में गए हुए थे| जहां पर अजय खाना खाते समय किसी महिला से वीडियो कालिंग कर रहा था|

इसकी खबर किसी महिला ने सोनी को दे दी| सोनी ने जब देखा तो उसने पाया की उसके पति किसी अनजान महिला से बात कर रहे थे| इस बात पर सोनी ने पाने पति को टोका| इस दौरान दोनों पति-पत्नी के बीच झगड़ा हो गया| बाद में दोनों ही घर वापिस आ गए| घर पर आने के बाद भी दोनों के बीच इस बारे में खूब बहस हुई| इस झगड़े के दौरान ही अजय ने अपनी पत्नी सोनी का गला दबा दिया, जिसके कुछ समय बाद ही सोनी की मौत हो गई|

अगली सुबह जब घर के बाकि लोग और अजय भी सोकर उठा तो किसी को भी उसके स्वभाव से कुछ भी मालूम नहीं चला| लेकिन काफी देर तक सोनी के नहीं उठने से घर वालों ने उसे देखा तो वह मृत मिली| सोनी की मृत होने होने की जनकादि मिलते ही गुरसहायगंज से उसके मायके वाले भी आ गए| सोनी के मायके वालो ने आते ही अजय पर उनकी बेटी की हत्या करने का आरोप लगा दिया|

सोनी के मायके वालों का कहना है की सोनी को अजय और उकसा देवर और देवरानी परेशान किया करती थी| अजय का कहना है की सोनी ने आत्महत्या की है| पुलिस को सुचना मिलने पर मौके पर पहुँच कर पुलिस ने अजय और उसके भरी विजय को गिरफ्तार पर शुरूआती जाँच शुरू कर दी है| अजय के बड़े भाई कानपूर देहात में सिपाही के पद पर तैनात है| सदर कोतवाल एके सिंह ने बताया है की घटना की जाँच के बाद ही यह साफ हो पाएगा की यह हत्या है या आत्महत्या|