पांचवी में पढ़ने वाली नाबालिग बच्ची का रेप, मुँह बंद रखने के...

पांचवी में पढ़ने वाली नाबालिग बच्ची का रेप, मुँह बंद रखने के लिए दिए 100 रूपये

0
SHARE

पांचवी में पढ़ने वाली नाबालिग बच्ची का रेप, मुँह बंद रखने के लिए दिए 100 रूपये: बच्चियों से होने वाले दुष्कर्म पर कड़े कानून का कोई असर नहीं दिख रहा है| देश में नाबालिग बच्चियों से रेप के मामले थमने का नाम है| देश के हर हिस्से से रोजाना नाबालिग बच्चियों से दुष्कर्म के मामले सामने आ रहे है| अब ताजा मामला पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले का है, जहां पर 5वीं क्लास के साथ दुष्कर्म की घटना सामने आई है| मीडिया की खबरों के मुताबैक आरोपी ने बच्ची का कथित तौर पर यौन शोषण किया और इस बारे में किसी को नहीं बताने के लिए बच्ची को 100 रूपये भी दिए|

पांचवी में पढ़ने वाली नाबालिग बच्ची का रेप, मुँह बंद रखने के लिए दिए 100 रूपये

पुलिस अधिकार ने बताया की आरोपी युवक ने पांचवी कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा को रविवार श्याम को घर बुलाया और फिर उसका यौन शोषण किया| बच्ची को इसकी खबर किसी को नहीं बताने के लिए 100 भी दिए| हलाकि पुलिस ने आरोपी को पोक्सो एक्ट के तहत केस गिरफ्तार कर लिया है| आरोपी को आज अदालत में पेश भी कर दिया गया| बता दें की वेस्ट बंगाल की राजधानी कोलकाता में बीते फरवरी माह में एक प्राइवेट स्कूल के एक टीचर को दूसरी क्लास में पढ़ने वाली छात्रा से यौन उत्पीड़न करने के मामले में गिरफ्तार किया गया था| इस शर्मनाक घटना के सामने आने के बाद पैरेंट्स ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ सड़कों पर विरोध प्रदर्शन भी किया था|

चौथी बार रूस के राष्ट्रपति बने व्‍लादिमीर पुतिन, बोले- देश को ताकतवर बनाऊंगा

घटना पर गुस्सा जाहिर करते हुए पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा था कि अगर आरोपी टीचर के खिलाफ आरोप सही पाए गए तो उसे फिर कभी पढ़ाने देने की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा था, ‘मेरा अपना ख्याल है कि लड़कियों के स्कूल में पुरुष टीचरों की नियुक्ति नहीं होनी चाहिए।

बता दें की कुछ ही समय पहले भारत सरकार ने 12 साल की बच्चियों से रेप के मामले में फांसी की सजा का ऐलान किया था| लेकिन इसके बावजूद देश में बच्चियों से दुष्कर्म के मामले रुकने का नाम ही नही ले रहे है|