अब आधार नंबर होगा और भी ज्यादा सुरक्षित, UIDAI जल्द ही जारी...

अब आधार नंबर होगा और भी ज्यादा सुरक्षित, UIDAI जल्द ही जारी करेगा वर्चुअल ID और नंबर

0
SHARE

आधार कार्ड की गोपनीयता को लेकर देश भर में तरह-तरह के सवाल किए जा रहे है| कुछ समय पहले ही एक न्यूज़ एजेंसी ने ये दावा किया था की आधार का डेटा महज 500 रुपए बेचा जा रहा है|| इस खबर के सामने आने के बाद आधार की सुरक्षा को लेकर सवाल भी खड़े हुए थे| सरकार ने आधार को ओर ज्यादा सुरक्षित करने के लिए एक बड़ा फैसला लिया है| सरकार ने 16 नंबर का अस्थायी नंबर जारी किया है, जिसका इस्तेमाल आधार नंबर के बदले किया जा सकेगा| इस नई नंबर को जारी करें के पीछे आधार के डेटा में होने वाली किसी भी प्रकार की सेंधमारी को रोकना है| बता दें की यह मार्च महीने से देशभर में लागू हो जाएगा|

अब आधार नंबर होगा और भी ज्यादा सुरक्षित, UIDAI जल्द ही जारी करेगा वर्चुअल ID और नंबर

हालांकि अभी भी काफी लोगो को आधार के बारे में पूरी जानकारी नहीं है| आधार का होने क्यों जरुरी है? क्या फायदे है आधार कार्ड के? आज के समय में भारत में भारत के नागरिको के लिए आधार कार्ड सभी सरकारी तथा प्राइवेट काम में आधार का प्रयोग किया जाता है चाहे आपको किसी कंपनी का सिम कार्ड लेना हो या आयकर जमा करवाना हो| इन सभी कामो के लिए आपको अपना आधार कार्ड नंबर देना होता है, आधार नंबर से आपकी सारी जानकारी मिल जाती है| लेकिन अब मार्च महीने से आप सभी के पास एक ऑप्शन होगा जिसके तहत आपको एक 16 अंको का वर्चुअल ID मिलेगी जिसको आप अपने आधार नंबर की जगह पर इस्तेमाल कर सकते है| यह वर्चुअल ID अस्थायी नंबर है जिसे आप अपने हिसाब साथ शेयर कर सकते है|

जाने कहा से बनवा सकते है वर्चुअल आईडी

इस नए नियम के लागू हो जाने के बाद आधार कार्ड होल्डर अपनी वर्चुअल आईडी को बनवा पाएँगे| यह वर्चुअल आईडी आपक यूआईडीएआई की वेबसाइट से डाउनलोड कर| यही नहीं इसके अलावा आप एम आधार मोबाइल एप या आधार इनरोलमेंट सेंटर से भी प्राप्त कर सकते है|

कही भी कर सकते है वर्चुअल आईडी का इस्तेमाल

बता दें की इस वर्चुअल आईडी में आधार कार्ड के मुकाबले केवल कुछ सिमित जानकारी ही होगी| आप वर्चुअल आईडी का इस्तेमाल किसी डॉक्यूमेंट वेरफिकेशन या अन्य किसी भी जगह जहाँ आपको आधार नंबर देना हो, उसकी जगह आप वर्चुअल आईडी का इस्तेमाल कर सकते है| बता दें की इस वर्चुअल आईडी में केवल आपक नाम, पता और तस्वीर की जानकारी ही अन्य व्यक्ति को मिल पाएगी| इस वर्चुअल आईडी के आने के बाद उन लोगो की संख्या में गिरावट आएगी जो आपके आधार की जानकरी को चुराने की कोशिश कर रहे है|

कितनी बार कर सकते है इस्तेमाल?
एक बार में व्यक्ति केवल एक वर्चुअल आईडी ले सकता है| वर्चुअल आईडी को एक ज्यादा बार इस्तेमाल करने के लिए एक से अधिक बार निकला जा सकता है| जब नई वर्चुअल आईडी लेते है तो आपकी पुरानी वर्चुअल आईडी ऑटोमैटिक रद्द हो जाएगी| यह एक अस्थायी आईडी है, जिसे कोई भी एजेंसी अपने यहाँ से बिना आधार कार्ड नंबर की मदद से हटा नहीं सकती|

वर्चुअल आईडी केवल वही लोग प्राप्त कर सकते है, जिनके पास आधार नंबर है| आपको बता दें की वर्चुअल आईडी ऑथेंटिकेशन यूजर एजेंसी, केवाईसी यूजर एजेंसी अपने आप आधार धारक का वर्चुअल आईडी जारी नहीं करेगा, आपके रिक्वेस्ट भेजने पर ही ऐसे जारी किया जाएगा| इस वर्चुअल आईडी के जारी होने के बाद धारक की केवल एक सिमित जानकारी ही साँझा हो पाएँगी| आपकी गोपनीय जानकारी किसी के साथ शेयर नहीं हो पाएगी|

ये भी पढ़े- सेना दिवस से पहले हुआ बड़ा हादसा, रिहर्सल के दौरान तीन जवान हेलिकॉप्टर से गिरे, देखे वीडियो

व्हाट्सएप लेकर आया नया फीचर, अब बिना कॉल काटे, वॉयस कॉल से वीडियो कॉल कर पाएँगे|

बता दें की इस वर्चुअल आईडी को केवल एक सिमित समय के लिए ही जारी किया जाएगा| अपनी आईडी को समय-समय पर वर्चुअल आईडी से बदल पाएँगे| इस वर्चुअल आईडी के जनरेट होने के बाद ई-केवाईसी कंपनी इस बात को अनिवार्य करेंगी की वर्चुअल आईडी को स्वीकार करना होगा| 1 जून 2018 से सभी एजेंसी को वर्चुअल आईडी आधार नंबर की जगह स्वीकार करना अनिवार्य होगा|