इराक के मोसुल से लापता 39 भारतीय नागरिकों की मौत की पुष्टि,...

इराक के मोसुल से लापता 39 भारतीय नागरिकों की मौत की पुष्टि, सुषमा स्वराज ने दिया संसद में बयान

0
SHARE

इराक के मोसुल से लापता 39 भारतीय नागरिकों की मौत की पुष्टि, सुषमा स्वराज ने दिया संसद में बयान: भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज मंगलवार को संसद में बयान देते हुए बताया की इराक के मोसुल में लापता 39 भारतीय नागरिकों की मौत हो चुकी है| उन्होंने इस बात की जानकारी संसद के उच्च सदन राज्यसभा में दी| विदेश मंत्री ने बताया की सोमवार को उन्हें इस बात की जानकारी मिली की 38 लोगों के डीएनए मैच हो गए है, जबकि 39वें व्यक्ति का 70 प्रतिशत डीएनए मैच हुआ है| उन्होंने इस बात की जानकारी देते हुआ कहा की सभी लोगो के शवों को भारत लाने की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी|

इराक के मोसुल से लापता 39 भारतीय नागरिकों की मौत की पुष्टि, सुषमा स्वराज ने दिया संसद में बयान

‘जनरल वीके सिंग 39 भारतीयों के शवों को लेने इराक जाएँगे| इराक से आने वाले विमान अमृतसर होते हुए पटना और कोलकाता जाएगा| आपको बता दें की कुछ समय पहले इराक के मोसुल में 39 भारतीय नागरिकों के लापता होने की खबरे सामने आई थी| जिसके बाद यह आशंका जताई गई थी वे सभी किसी जेल में बंद है, बता दें की ये साल 2014 की घटना है|

World Sparrow Day विश्व गौरैया दिवस निबंध, कविता

विदेश मंत्री ने बताया की भारत सरकार की तरफ से पिछले तीन सालों से लापता हुए 39 भारतीय नागरिकों को ढूंढने के लिए अभियान चलाया गया था| इस पूरे ऑपरेशन में इराक की सरकार ने हमारी मदद ही| ‘जनरल वीके सिंह इराक में 39 भारतीयों को तलाशने गए हुए है| इस मिशन में उन्हें साथ भारतीय राजदूत और इराक के अफसर भी थे|

बदशु में ही भारतीयों के लापता होने की खबर थी| जब वे लोगो इन भारतीयों को खोज रहे थी तब एक व्यक्ति ने बताया की एक पर्वत है, जहाँ पर कुछ लोगों को दफनाया गया है| वहाँ पहुँचने पर ऊपर से देखने पर कुछ नहीं मिला लेकिन इराक के अधिकारियों से डीप पेनिट्रेशन रडार मंगाकर नीचे देखा गया तो पता चला की नीच कुछ शव है| इराक सरकार से इजाजत लेने के बाद उसे खोदा गया और शवों को बाहर निकाला गया| शवों के साथ कड़ा, जूते और आईडी कार्ड्स जैसी चीजे भी मिली जो इराक में रहने वाले लोगो से मिलती हुई नहीं थी| एक ही जगह पर 39 शवों को मिलने से सभी हैरान रह गए|

वोडाफोन का नया प्लान 21 रूपये में अनलिमिटेड इंटरनेट, लेकिन इतने दिन होगी वैधता

इन शवों को जाँच के लिए इराक भेजा गया और जाँच में पता चला की ये सभी शव भारतीय नागरिकों के ही है| 38 लोगो के डीएनए उन्हें परिवार के सदस्यों से मैच हो चुके है| इस पूरे प्रोसेस की पूरी जानकारी कल सोमवार की हमे ज्ञात हुई| 39वे व्यक्ति का 70 प्रतिशत ही डीएनए मैच हो पाया है|