कानपुर: NIA की छापेमारी में बिल्डर के पास से मिले 96 करोड़...

कानपुर: NIA की छापेमारी में बिल्डर के पास से मिले 96 करोड़ के पुराने नोट

0
SHARE

उत्तर प्रदेश के औद्योगिक शहर कानपुर नोटबंदी के बाद से अब तक हुई छापे मारी में यह सबसे बड़ी छापे मारी हुई है| बता दें की यह छापेमारी राष्ट्रीय जांच एजेंसी और यूपी पुलिस के द्वारा एक की गई| जिसमे एक बिल्डर के पास से 96 करोड़ 62 लाख के पुराने नोट मिले है| NIA और यूपी पुलिस के जॉइंट ऑपरेशन में नोटों के तीन बिस्तर मिले है| इन नोटों का इस्तेमाल सोने के लिए किया जाता था| यह छापेमारी एक बिल्डर जिसका नाम आनंद खत्रीआनंद खत्री के घर पर हुई|

कानपुर: NIA की छापेमारी में बिल्डर के पास से मिले 96 करोड़ के पुराने नोट

बता दें की NIA और यूपी पुलिस ने मंगलवार (16 जनवरी) को एक होटल तथा अन्य तीन जगहों पर छापा मारा था। इन्ही छापेमारी में आठ लोगो को गिरफ्तार किया था| जिनसे पूछताछ में आनंद खत्री के बारे में जानकारी मिली| इस जानकारी के आधार पर स्वरुपनगर स्थित आनंद खत्री के घर पर छापामारा गया| कानपुर के एसएसपी एके मीणा ने बताया की हमने गुप्त सुचना के आधार पर यह कार्यवाही की गई| उन्होंने बताया की इस छापेमारी के बारे में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और आयकर विभाग के अधिकारियों को जानकारी दे दी गई है| कुछ समय पहले ही यूपी पुलिस ने मेरठ के एक बिल्डर के पास से छापेमारी में करीब 25 करोड़ रुपए बरामद किए| NIA को इस बारे के जानकारी मिली की यूपी में कई छोटे-बड़े गैंग इस तरह के काम में काफी सक्रिय है|

 


ये भी पढ़े- तमिलनाडु में जल्लीकट्टू खेल के दौरान तीन लोगो की मौत, 25 लोगो के घायल होने की खबर

मोदी सरकार ने किया हज पर जाने वाले लोगो को मिलने वाली सब्सिडी को ख़त्म करने का ऐलान

यूपी पुलिस ने बताया की जिस व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है उसका कोई जानकार रिजर्व बैंक में नौकरी करता है| पुलिस के सूत्रों का कहना है की अभी इस मामले में इस बात की भी जाँच की जा रही है कही सरकारी अधिकारी तो इसमें शामिल नहीं है| पुलिस इस बात की भी जाँच कर रही है की कही यह लोग पुराने नोटों की बदली में तो शामिल नहीं थे| रिज़र्व बैंक के नियम के अनुसार अब किसी भी प्रकार से पुराने नोटों की बदली नहीं की जा सकती|