भारत सुर्खियां

हैवानगी की हदें पार कर दी इस घटना ने, जानकर सहम जायेंगे आप

प्रदीप चौहान, 35, जनकपुरी से संगम विहार अपने घर लौट रहे थे, जब उनपर एक लोहे की छड़ से हमला किया गया था उनकी गलती सिर्फ इतनी थी कि उनकी गाड़ी गलती से एक आदमी के वाहन छू गयी थी।

रोड रेज की इस घटना में जिस व्यक्ति को  गंभीर छोटे लगीं , वे  गुड़गांव के फोर्टिस अस्पताल में लैब तकनीशियन का काम करते हैं।

manoj-story_647_091216120057

प्रदीप चौहान, अपनी पत्नी और बच्चों के साथ संगम विहार में अपने घर  जनकपुरी से लौट रहे थे जब यह घटना पिछले सप्ताह, कुतुब मीनार मेट्रो स्टेशन के पास हुई ।

आरोपी विनीत कुमार, को गिरफ्तार किया गया और प्रासंगिक धाराओं के तहत उसके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, पुलिस ने कहा।

ट्रैफिक ज्यादा होने के कारन गलती से प्रदीप चौहान ने विनीत कुमार की गाडी गलती से पीछे से ठोक दी , बस इससे बात पर विनीत कुमार आक्रामक होकर प्रदीप को लोहे की रोड से मारने लगे।

manoj-mos_091216120222

“कुतुब मीनार मेट्रो स्टेशन के पास जाम था और कारें धीरे-धीरे आगे बढ़ रहीं थीं । जब वहाँ एक लाल बत्ती हुई , कार आगे चल रही गाड़ी के मालिक ने आपातकालीन ब्रेक लगाया और मेरे पति ने  भी ब्रेक लगाया। मेरे पति की कार गलती से आगे वाले वाहन को छु गयी “अंजना चौहान , प्रदीप चौहान की पत्नी ने कहा। उन्होंने कहा कि कार का मालिक गुस्से में अपनी कार से बाहर आया।

“हालांकि मैंने और मेरे पति ने माफी मांगी और उससे कहा कि हम हर्जाना अदा करने के लिए तैयार हैं, वह वापस अपनी कार के पास गया और मेरे पति को हिट करने के लिए एक छड़ी बाहर ले आया। वह अपनी पत्नी और बच्चे के साथ था। हम भी अपने दो बच्चों को, जो 12 और 10 आयु वर्ग के हैं के साथ थे, “अंजना ने कहा।

“उसकी पत्नी ने भी कहा कि मत मारो, लेकीन उसने एक भी न सुनी । जब जनता इकट्ठा हुई , किसी ने पुलिस को फोन किया और मेरे पति को अस्पताल ले जाया गया, “अंजना ने कहा।

विनीत ने घटनास्थल से भागने की कोशिश की लेकिन वह भीड़ द्वारा पकड़ा गया था और पुलिस को सौंप दिया गया।

प्रदीप चौहान को वसंत कुंज के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उनकी पत्नी ने कहा।