कुलभूषण जाधव की अपनी माँ-पत्नी से हुई मुलाकात के अगले ही दिन...

कुलभूषण जाधव की अपनी माँ-पत्नी से हुई मुलाकात के अगले ही दिन मिले भारत-पाक के NSA

0
SHARE

भारतीय जल सेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव की उनकी मां और पत्नी के बीच हुई मुलाकात के बाद, हुए विवाद के बीच भारत और पाकिस्तान के सुरक्षा सलाहाकार के मुलाकात की खबरे है| संडे एक्सप्रेस की खबर के अनुसार थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक में 26 दिसंबर को एक गुप्त जगह पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने पाकिस्तान के सुरक्षा सलाहकार से मिले|

कुलभूषण जाधव की अपनी माँ-पत्नी से हुई मुलाकात के अगले ही दिन मिले भारत-पाक के NSA

बता दें की इस समय रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनलर नासिर खान जांजुआ पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हैं। आपको बता दें की इस मीटिंग और इसकी तारीख का कुलभूषण जाधव के केस से कोई लेना देना नहीं है| दोनों ही देशो के बीच हुई यह बैठक पहले से ही तय समय पर हुई है| सूत्रों ने इस मुलाकात को पहले से ही निर्धारित करार दिया है| भारत के सरकारी सूत्रों ने इस बारे में कोई भी जानकारी देने से इंकार कर दिया है| खबर है की भारत में इस मुलाकात की जानकरी विदेश मंत्रालय के बड़े अधिकारियों तथा पाकिस्तान सेना मुख्यालय को होने की खबर बताई जा रही है|

खबर है की भारत के सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने इस मुलाकात में घुसपैठ और सीजफायर उल्लंघन के जैसे मसलों पर अपनी बात राखी| तक़रीबन 2 घंटे चली इस मुलाकात में भारत ने पाकिस्तान के सामने उनकी कुख्यात बॉर्डर एक्शन टीम द्वारा सीमा पर की जा रही कार्यवाही का मुद्दा उठाया| पाकिस्तान NSA ने भारत की तरफ से बॉर्डर पर की किए जा रहे ऑपरेशन पर भी सवाल जवाब किए| आपको बता दें की इस साल संघर्ष विराम की 820 घटनाएं सामने आई है| पाकिस्तान की तरफ से की गई गोलीबारी में भारत के 31 जवानो को अपनी शहादत दे कर चुकानी पड़ी|

ये भी पढ़े- रजनीकांत ने राजनीति में आने का किया ऐलान, तमिलनाडु विधानसभा चुनाव से करेंगे शुरुआत

मुलायम सिंह यादव की छोटी बहु अपर्णा यादव ने किया तीन तलाक का समर्थन

वैसे भारत और पाकिस्तान के उच्च अधिकारियो के बीच किसी तीसरे देश में मुलाकात कोई नई बात नहीं है| साल 2015 के दिसंबर महीने में भी भारत-पाक के विदेश सचिवों के बीच बैंकॉक में मुलाकात हुई थी| इस मीटिंग को भी मीडिया की नजरो से दूर रखा गया था| वही इस प्रधानमंत्री मोदी पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ के जन्मदिन पर शुभकामनाएं देने अचानक लाहौर पहुंच सभी को चौंका दिया था| पाकिस्तान के सलाहकार के साथ यह बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण बताई जा रही है क्योकि जांजुआ ने कुछ समय पहले बयान दिया था की दक्षिण एशिया में हालत अब अपने चरम पर है और परमाणु युद्ध से नकारा नहीं जा सकता|