पूर्व डीजीपी का शर्मनाक बयान बोले- निर्भया की मां का फिजिक देख...

पूर्व डीजीपी का शर्मनाक बयान बोले- निर्भया की मां का फिजिक देख कर अंदाजा लगा सकता हूं कि बेटी कितनी सुंदर रही होगी|

0
SHARE

कर्नाटक के पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने एक शर्मनाक बयान दिया है। बता दें की कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में महिलाओं को सम्मानित करने के लिए एक कार्यक्रम में उन्होंने दिल्ली गैंगरेप की शिकार हुई निर्भया की मां को लेकर एक शर्मनाक बयान दिया। बैंगलोर मिरर की खबर के अनुसार, पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने निर्भया की मां आशा देवी के बारे में कहा कि उनका ‘फिजिक’ (काया) काफी सुंदर है और वह केवल इस से अंदाजा लगा सकते हैं कि निर्भया कितनी सुंदर रही होगी।’

पूर्व डीजीपी का शर्मनाक बयान बोले- निर्भया की मां का फिजिक देख कर अंदाजा लगा सकता हूं कि बेटी कितनी सुंदर रही होगी|

याद दिला दें कि साल 2012 में दिल्ली में निर्भया के साथ रेप की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया गया था। अपनी बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए निर्भया की मां ने एक लंबी कानूनी लड़ाई भी लड़ी। इस कार्यक्रम में पूर्व डीजीपी एचटी सांगलियान ने कहा, “मैं निर्भया की मां को देख पा रहा हूं, उनके पास कितनी अच्छी फिजिक है, मैं सिर्फ बात से अंदाजा लगा सकता हूं कि निर्भया कितनी सुंदर रही होगी।”


पूर्व डीजीपी के इस बयान को सुनने के बाद कार्यक्रम में मौजूद कई महिलाएं हैरान रह गई। इस कार्यक्रम में बेंगलुरु की मशहूर आईपीएस डी रूपा भी मौजूद थीं। इस कार्यक्रम से जुड़ी फोटो आईपीएस डी रूपा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी शेयर की। कार्यक्रम में शामिल एक्टिविस्ट अनिता चेरिया ने कहा कि वह डीजीपी के बयान को सुनकर सकते में रह गईं। वह कार्यक्रम को छोड़कर जाना चाह रही थीं, लेकिन निर्भया के माता-पिता का समान करते हुए उन्होंने ऐसा करना सही नहीं समझा। हालांकि, पूर्व पुलिस ऑफिसर के बयान पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की। उन्होंने का ही जब पुलिस विभाग के शीर्ष पदों पर बैठे लोग की सोच ऐसी है तो किसी को भी इंसाफ कैसे मिल सकता है| समाज के लिए ऐसी सोच काफी घातक है|

ये भी पढ़े- वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट में जीएसटी को सबसे जटिल फॉर्म बताया गया, दुनिया में दूसरा सबसे ऊँचा टैक्स रेट है भारत में|

बता दें की सांगलियान इस पूरे कार्यक्रम को अटेंड नहीं किया। सांगलियान ने महिलाओं की सुरक्षा पर सुझाव देते हुए भी यह शर्मनाक बयान दिया। उन्होंने कहा, “यदि आपको किसी ने काबू में कर लिया है, तो आपको उसे सरेंडर कर देना चाहिए, बाद में आप केस फॉलो करें, इस तरह से हम सुरक्षित रह सकते हैं, जिंदगी बचाइए और मरने से बचिए।”