दिल्ली में बिजली हुई सस्ती, फिक्स चार्ज में भारी बढ़ोत्तरी

दिल्ली में बिजली हुई सस्ती, फिक्स चार्ज में भारी बढ़ोत्तरी

0
SHARE

दिल्ली में बिजली हुई सस्ती, फिक्स चार्ज में भारी बढ़ोत्तरी: दिल्ली में बिजली के दाम घटा दिए गए है| लेकिन दिल्ली वालों के लिए एक बुरी खबर है| दिल्ली में बिजली के बिल में लगने वाला फिक्स चार्ज को बढ़ा दिया है| दिल्ली में बिजली की दरों में 1 से 1.50 रूपये प्रति यूनिट की दर से सस्ती हुई है| आज हुई दिल्ली बिजली नियामक प्राधिकरण (डीईआरसी) की बैठक में बिजली की दरों की कटौती को लेकर फैसला लिया गया|

दिल्ली में बिजली हुई सस्ती, फिक्स चार्ज में भारी बढ़ोत्तरी

दिल्ली में बिजली हुई सस्ती

आज बुधवार को हुई डीईआरसी की बैठक दिल्ली में बिजली की नई दरों को तय किया गया| बता दें की डीआईआरसी ने बिजली के कनेक्शन पर लगने वाले फिक्स चार्ज को दुगने से भी अधिक की बढोत्तरी करने का फैसला किया है| बता दें की पहले 2 kV के कनेक्शन पर फिक्स चार्ज 20 रुपये होता था| जिसे बढाकर 125 रुपये कर दिया गया है| 2kv से 5kv तक कनेक्शन पर लगने वाले फिक्स चार्ज जी पहले 35 रुपये लगता था अब उसे बढाकर 140 रुपये कर दिया गया है|

डीईआरसी ने घरेलू बिजली की नई दरें जारी कर दी है| दिल्ली में बिजली की पुरानी और नई दरें इस प्रकार है| शून्य से 200 यूनिट तक की प्रति यूनिट दर 4 रुपये से घटाकर 3 रुपये, 201 से 400 यूनिट तक 5.95 से घटाकर 4.50 रुपये, 401 से 800 यूनिट तक 7.30 से घटाकर 6.50 रुपये, 801 से 1200 यूनिट तक 8.10 से घटाकर 7 रुपये और 1200 यूनिट से अधिक की खपत पर चार्ज 8.75 रुपये प्रति यूनिट से घटाकर 7.75 रुपये प्रति यूनिट हुई|

डोमेस्टिक यूनिट                     पहले                      नई दर
0 से 200 यूनिट                    4 रुपये                     3 रुपये
201 से 400 यूनिट                5.95                         4.50
401से 800 यूनिट                 7.30                         6.50
801 से 1200 यूनिट              8.10                          7
1200                              8.75                         7.75
फिक्स चार्ज2 kV                   20                           125
फिक्स चार्ज 2kv से 5kv           35                          140

 दिल्ली में बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी की मांग बिजली कम्पनियाँ काफी लम्बे वक्त से कर रही थी, इस बात की आशंका भी जताई जा रही थी की 5 से 10 फीसदी तक बिजली की दरें बढ़ सकती है| लेकिन आज की बैठ में इसके उलट ही फैसला लिया गया|

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने दावा किया है की दिल्ली में पिछले 4 सालों में बिजली की कीमत में किसी प्रकार की बढ़ोतरी नहीं हुई है| जानकारों के अनुसार दिल्ली सरकार की इस बात में दम नहीं दिखता| दिल्ली में प्रत्यक्ष तौर नहीं लेकिन अप्रत्यक्ष तौर पर दामों में बढ़ोतरी की गई है| 3.70 फीसदी पेंशन फंड के नाम पर सरचार्ज लगाया गया था| यानि 100 रुपये पर तीन रुपये सत्तर पैसे|