दिल्ली बुराड़ी केस: 8 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, ये हुए चौकाने...

दिल्ली बुराड़ी केस: 8 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, ये हुए चौकाने वाले खुलासे

0
SHARE

दिल्ली बुराड़ी केस: 8 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, ये हुए चौकाने वाले खुलासे: दिल्ली के उत्तरी हिस्से के बुराड़ी इलाके में रविवार की सुबह मृत पाए गए एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने लगी है| इस रिपोर्ट से कई खुलासे होने लगे है| 11 में से 8 लोगों के शव की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में यह बात समाने आई है की इनके शरीर पर किसी प्रकार के चोट या फिर हाथापाई के संकेत नहीं मिले है| पुलिस के एक सीनियर अधिकारी ने बताया की इन सभी लोगों की मौत फांसी पर लटकने की वजह से ही हुई है| रहस्यमयी तरीके से घर में एक ही साथ 11 लोगों की मौत से सभी हैरान है| मरने वाले परिवार के 11 लोगों में 7 महिलाएं और दो और दो पुरुष शामिल है|

दिल्ली बुराड़ी केस: 8 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, ये हुए चौकाने वाले खुलासे

पुलिस के अधिकारी ने जानकारी की दो बच्चों और बुजुर्ग महिला सहित 8 लोगों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ चुकी है| इस रिपोर्ट में पुलिस को गला घोटने या फिर किसी प्रकार की हाथापाई के निशान नहीं मिले है| पुलिस ने जानकारी दी की परिवार के 10 लोग घर में फांसी लगा कर मरे है जबकि बुजुर्ग महिला घर के अंदर एक कमरे में मृत पाई गई|

दिल्ली बुराड़ी मामला: जानिए! घर की दीवार पर क्यों लगे थे 11 पाइप

पहले यह आशंका जताई जा रही थी की बुजुर्ग महिला को गला घोंट कर मारा गया है| लेकिन पोस्टमॉर्टम के बाद यह साफ हो गया है की नारायण देवी की मौत भी फांसी लगाने से हुई है|

दिल्ली बुराड़ी केस: 11 मौत, 11 पाइप के बाद अब घर के रोशनदान में लगे मिले 11 एंगल के ग्रिल से उलझा मामला

पुलिस अधिकारी ने बताया की अब आगे ये सवाल खड़ा हो रहा है की बुजुर्ग महिला के गले से रस्सी किसने निकाली| उन्होंने कहा की शुरूआती जाँच से तो यही लग रहा है की इन सभी की मौत फांसी पर लटकने से हुई है| अभी फाइनल रिपोर्ट आना बाकि है| घर से मिले नोटिस से तो यह लग रहा है की ये सभी किसी धार्मिक अनुष्ठान की वजह से मरे है|

दिल्ली बुराड़ी केस: घर से मिले रजिस्टर में लिखी मिली ये 10 बातें

कुछ नोट्स पर लिखा है की ‘कोई मरेगा नहीं’ बल्कि कुछ ‘महान’ हासिल कर लेगा। फांसी पर लटके हुए लोगों के मुँह पर टेप लगी थी और आँखों पर कपड़े बंधे हुए थे जो एक चादर के है| बुजुर्ग महिला का चेहरा ढाका हुआ नहीं था, उनका अभी पोस्टमॉर्टम जारी है|

मृतकों की पहचान कुछ इस प्रकार हुई है- नारायण देवी (77), उनकी बेटी प्रतिभा (57) और दो बेटे भावनेश (50) और ललित भाटिया (45) के रूप में हुई है। भावनेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चे मीनू (23), निधि (25) और ध्रुव (15), ललित भाटिया की पत्नी टीना (42) और उनका 15 वर्ष का बेटा शिवम , प्रतिभा की बेटी प्रियंका (33) भी मृत मिले।