तमिलनाडु: जंगल में आग लगने से 20 छात्र फंसे, रेस्क्यू के लिए...

तमिलनाडु: जंगल में आग लगने से 20 छात्र फंसे, रेस्क्यू के लिए एयर फाॅर्स रवाना|

0
SHARE

तमिलनाडु में दो दर्जन से अधिक छात्रों के जंगल में आग लगने के कारण फंसे होने की खबर से अफरातफरी मच गई है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने वायुसेना को छात्रों के रेस्क्यू का आदेश दिया है। रक्षा मंत्री लगातार इस घटना पर नजर बनाए हुए हैं। मीडिया खबरों के अनुसार आग थेनी जिले के कुरानगनी के जंगल में लगी है। मुख्यमंत्री ई. पलानीसामी ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से अनुरोध किया था कि वह वायु सेना को राहत-बचाव कार्य करने और छात्रों को वहां से निकालने के आदेश दें। रक्षा मंत्री ने बताया कि उन्होंने साउदर्न कमांड थेनी के कलेक्टर से संपर्क किया है। सीतारमण ने ट्वीट कर जानकारी दी की- ”मैंने जिला कलेक्टर से बात करी है, उन्होंने जानकारी दी है कि 10.-15 छात्रों का रेस्क्यू किया जा चुका है। वे सभी पहाड़ी से नीचे आ रहे हैं।” द न्यूज मिनट की रिपोर्ट के अनुसार रविवार (11 मार्च) की श्याम को थेनी के जंगल में आग लगी थी| जिसमें कॉलेज के 20 छात्र फंस गए थे। छात्र ट्रेकिंग के लिए जंगल में गए हुए थे।

तमिलनाडु: जंगल में आग लगने से 20 छात्र फंसे, रेस्क्यू के लिए एयर फाॅर्स रवाना|

सरकारी रिपोर्ट के अनुसार 20 छात्र ट्रेकिंग पर गए हुए थे, जबकि स्थानीय पत्रकारों के अनुसार कम से कम 55 छात्र जंगल में ट्रेकिंग के लिए गए हुए थे। थेनी रेंज के निकट कुरानगनी जंगल में आग लगी है। ऐसा माना जा रहा है कि पर्वत श्रृंखला के लिए ट्रेकिंग पर गए छात्र आग में फंसे है और कहा जा रहा है कि एक छात्र की मौत की भी खबर है। घटना स्थल पर वायुसेना के अलावा दमकल और पुलिस की टीमें भी राहत और बचाव के काम में लगाई गई हैं।

स्थानीय मीडिया के अनुसार पास के गांव के लोगों को करीब चाढ़े चार बजे जंगल में आग लगने का पता लगा। तमिल मीडिया से बात करने वाले बचाव दल के एक कर्मी ने बताया कि करीब 200 स्थानीय लोग बचाव कार्य में रेस्क्यू टीम की मदद कर रहे है। डॉक्टरों की टीम भी घटना स्थल पर मौजूद होने की खबरे है| वन अधिकारी जय सिंह ने मीडिया को बताया कि 9 छात्रों को बचा लिया गया है। अंधेरा ज्यादा होने की वजह से बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है।