नवरात्रि 2017: शुभ मुहूर्त कलश स्थापना विधि मां दुर्गा पूजा आरती मंत्र...

नवरात्रि 2017: शुभ मुहूर्त कलश स्थापना विधि मां दुर्गा पूजा आरती मंत्र तिथि समय दिनाक Images Pics

0
SHARE

नवरात्रि 2017: शुभ मुहूर्त कलश स्थापना विधि मां दुर्गा पूजा आरती मंत्र तिथि समय दिनाक Images Pics :- जैसा की आप  जानते ही हैं की कल से यानि 21 सितंबर से शारदीय नवरात्र की शुरुआत होने जा रही हैं।  सभी हिन्दू परिवार इस पावन त्योहार के लिए पूर्ण  रूप   से तैयार हैं।  देखिये , आज इतिहास में  जाने की बात हम नहीं करेंगे क्युकी सबको पता हैं की शारदीय नवरात्र क्यों मनाये जाते हैं। एवं आज में आपको यह भी नहीं बताऊंगा की नवरात्री किस प्रकार बनाये। बल्कि आज हम आप सभी के साथं नवरात्रि  से जुड़े कुछ खास मेसेजस, एंड कोट्स आप सभी के साथ शेयर करेंगे।

शारदीय नवरात्र मनाने के अलग-अलग तरीके हो सकते हैं।  लेकिन ये त्योहार हर कोई मनाता है। प्रमुख तौर पर दो नवरात्र मनाए जाते हैं लेकिन हिंदी पंचांग के अनुसार एक वर्ष में चार बार नवरात्र आते हैं। चैत्र, आषाढ़, अश्विन और माघ हिंदू कैलेंडर के अनुसार इन महीनों के शुक्ल पक्ष में आते हैं।

नवरात्र के 9 दिन पहने ये अलग-अलग रंग के वस्त्र

Check Navratri 2017 Quotes, Sms, Wishes in Hindi-

माँ लक्ष्मी का हाथ हो,

सरस्वती का साथ हो,

गणेश का निवास हो,

और माँ दुर्गा के आशीर्वाद से,

आपके जीवन में प्रकाश ही प्रकाश हो

जय माता दी।

**********************

हे माँ तुमसे विश्वास ना उठने देना,

तेरी दुनिया में भय से जब सिमट जाऊं,

चारो ओर अँधेरा ही अँधेरा घना पाऊं,

बन के रोशनी तुम राह दिखा देना।

**********************

हमको था इंतजार वो घड़ी आ गई,

होकर सिंह पर सवार माता रानी आ गई,

होगी अब मन की हर मुराद पूरी,

हरने सारे दुख माता अपने द्वार आ गई।

जय माता दी।

************************

माता रानी वरदान ना देना हमें,

बस थोडा सा प्यार देना हमें,

तेरे चरणों में बीते ये जीवन सारा,

एक बस यही आशीर्वाद देना हमें।

आप सब को नवरात्रि की शुभ कामनायें।

******************************

यदि आप मां दुर्गा का विशेष आशीर्वाद लेने की  अपेक्षा रहें हैं। तो आपको कुछ बातें विशेष तौर पर अपनानी होंगी।  जिनको आज हम आप सभी के सामने बताने जा रहे हैं। सबसे पहले हैं शुभ मुहूर्त में पूजा करना। नवरात्र में लोग अपने घरों में कलश स्थापना करते हैं। ये कलश शुभ मुहूर्त में स्थापित करने से आपके जीवन में आने वाली परेशानियां खत्म हो जाती हैं। इस बार नवरात्रि का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 3 मिनट से 8 बजकर 22 मिनट तक रहेगा।