चेक बाउंस केस: एक्टर राजपाल यादव को 6 महीने की जेल और...

चेक बाउंस केस: एक्टर राजपाल यादव को 6 महीने की जेल और लगा 11.2 करोड़ रुपये जुर्माना

0
SHARE

चेक बाउंस केस: एक्टर राजपाल यादव को 6 महीने की जेल और लगा 11.2 करोड़ रुपये जुर्माना बॉलीवुड कलाकार राजपाल यादव की मश्किले रुकने का नाम नहीं ले रही है| राजपाल यादव को चेक बाउंस केस आज सोमवार को दिल्ली कड़कड़डूमा कोर्ट ने 6 महीने जेल और 11.2 करोड़ रुपये जुर्माना लगाया है| कोर्ट ने राजपाल को फिलहाल के लिए जमानत दे दी है| आपको बता दें की राजपाल यादव के खिलाफ 7 केस दर्ज है, हर केस के हिसाब से उन्हें 1.60 करोड़ रुपए जुर्माने के रूप में देने होंगे|

चेक बाउंस केस: एक्टर राजपाल यादव को 6 महीने की जेल और लगा 11.2 करोड़ रुपये जुर्माना

इससे पहले चेक बाउंस मामले में कोर्ट ने 14 अप्रैल को सुनवाई की थी| कड़कड़डूमा कोर्ट के अतिरिक्त मुख्य न्यायाधीश अमित अरोड़ा ने फिल्म बनाने के नाम पर पांच करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के केस में राजपाल यादव को दोषी करार दिया था| सोमवार को कोर्ट ने सजा का ऐलान किया| अदालत ने राजपाल यादव को इस केस में किसी भी प्रकार की रियायत देने से इंकार कर दिया|

शादी का कार्ड वोटर आईडी कार्ड की तरह छपवाकर दिया लोगों को दिया ये मैसेज

बता दें की कोर्ट ने राजपाल के साथ उनकी पत्नी को भी इस केस दोषी माना है| उनकी पत्नी पर प्रति केस के हिसाब से 10 लाख रूपये जुर्माने के तोर पर चुकाने का निर्देश दिया है| अगर जुर्माने की रकम अदा ना होने की एवज में उन्हें 6 महीनों में उनकी सजा में और बढ़ोतरी हो सकती है| इससे पहले भी राजपाल यादव को जेल जाना पद चूका है| साल 2013 में फर्जी दस्तावेज जमा करने के कारण उनके जेल हुई थी|

जानिए क्या है पूरा मामला?: लक्ष्मी नगर में मुरली प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी ने अभिनेता राजपाल यादव के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। उसका कहना है कि यादव ने अप्रैल 2010 में अता पता लापता फिल्म की शूटिंग पूरी करने के लिए उनसे पैसे लिए मांगे थे, जिसके बाद यादव को उसने पांच करोड़ रुपए की रकम बतौर लोन दिए थे। दोनों पक्षों में इस संबंध में एक एग्रीमेंट भी हुआ था। एक्टर को उसके अनुसार 8 प्रतिशत ब्याज के साथ रकम लौटानी थी।

बॉलीवुड एक्टर पहले चांस में पैसा देने में नाकाम रहे। तीन बार इसके बाद एग्रीमेंट रीन्यू हुआ। आखिरी एग्रीमेंट के मुताबिक, पीड़ित ने तकरीबन 11 करोड़ रुपए लौटाने के लिए कहा था, लेकिन राजपाल यादव इस रकम नहीं चूका पाए।