‘दंगल’ का ट्रेलर रिलीज़ “मिसालें दी जाती हैं बोली नहीं जाती”

‘दंगल’ का ट्रेलर रिलीज़ “मिसालें दी जाती हैं बोली नहीं जाती”

0
SHARE

‘दंगल’ का ट्रेलर रिलीज़ “मिसालें दी जाती हैं बोली नहीं जाती”आखिरकार सलमान खान की सुल्तान के बाद इस साल की मोस्ट अवेटेड फिल्म दंगल का ट्रेलर रिलीज़ हो चुका है। उम्मीद के मुताबिक ये ट्रेलर धमाकेदार है और देखकर ही लग रहा है आमिर खान की ये पिक्चर बहुत धमाकेदार होगी।

ट्रेलर देखकर पता चलता है कि ये फिल्म आमिर खान की नहीं बल्कि इसमें उनकी बेटियों का किरदार निभा रही फातिमा शेख और सान्या मल्होत्रा की है। ये फिल्म बेटियों के बारे में है जैसा कि इसमें एक डायलॉग है भी है, ‘गोल्ड तो गोल्ड होता है छोरा लावे या छोरी…’

जब ट्रेलर की शुरुआत होती है तो सलमान खान की ‘सुल्तान’ की याद आ जाती है। क्योंकि आमिर खान भी ट्रेलर की शुरुआत में स्कूटर चलते नजर आते हैं। लेकिन जब ट्रेलर आगे बढ़ता जायेगा वैसे वैसे आपको ये एहसास होगा की ये पिक्चर सिर्फ आमिर नहीं बल्कि उनकी बेटियों के बारे में है। और उससे भी ज्यादा बेटियों के कुश्ती खेलने के बारे में है। ट्रेलर देखने के बाद ये कहा जा सकता है कि सलमान खान की ‘सुल्तान’ औऱ आमिर खान की फिल्म ‘दंगल’ में तुलना करना बेमानी है।

ट्रेलर में कुछ डायलॉग तो बहुत ही शानदार हैं जिन्हें आप भूल नहीं पाएंगे. जैसे कि ‘मिसाले दी जाती हैं, बोली नहीं जातीं…’ और भी कई हैं जिसे आप खुद देखिए औऱ इन्जॉय कीजिए।

इस फिल्म को नितेश तिवारी ने डायरेक्ट किया है और ये सच्ची कहानी है जो दिग्गज पहलवान महावीर सिंह फोगाट के जीवन पर आधारित है। इसमें बताया गया है कि फोगट सिंह किस तरह तमाम संघर्षों के बीच अपनी दोनों बेटियों- गीता और बबीता को पहलवानी में प्रशिक्षित करते हैं और उनकी बेटियां कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक हासिल करने में कामयाब होती हैं।

इस ट्रेलर की कल से ही सोशल नेटवर्किंग साइट पर खूब चर्चा हो रही है और लगातार कल से ही #DangalTrailer ट्रेंड में बना हुआ है।