वालमार्ट ने 16 अरब डॉलर में खरीदा फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सा

वालमार्ट ने 16 अरब डॉलर में खरीदा फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सा

0
SHARE

वालमार्ट ने 16 अरब डॉलर में खरीदा फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सा: सबसे बड़ी ई कॉमर्स डील अब पूरी तरह से हो चुकी है| रिटेल कंपनी वॉलमार्ट ने भारतीय ई कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट काफी बड़ा हिस्सा खरीद लिया है| बता दें की ये दुनिया की सबसे बड़ी ई कॉमर्स डील है| ये डील 1.05 लाख करोड़ रुपए (16 अरब डॉलर) में सम्पन हुई है| वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट के 77 प्रतिशत हिस्से को खरीद लिया है| बाकि बचा हुआ हिस्सा फ्लिपकार्ट के शेयरधारकों के पास बना रहेगा| बता दें की अभी फ्लिपकार्ट में उसके को फाउंडर बिन्नी बंसल, टेंसेंट होल्डिंग टायगर ग्लोबल और माइक्रोसॉफ्ट का हिस्सा अभी भी बना हुआ है|

वालमार्ट ने 16 अरब डॉलर में खरीदा फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सा

फ्लिपकार्ट वॉलमार्ट डील

वॉलमार्ट ने कहा की वो भारत में निवेश और नौकरियों प्रतिबद्ध है| बता दें की वालमार्ट और फ्लिपकार्ट की यह डील काफी समय से सुर्खियों में बनी हुई थी| इस डील के लिए ही वॉलमार्ट के सीईओ डग मैकमिलन भारत आए थे| हलाकि दोनों ही कंपनी अपने ब्रांड और ऑपरेटिंग स्टक्चर में कोई बदलाव नहीं करेंगे| बता दें की इस समय वॉलमार्ट भारत में 21 बेस्ट प्राइज कैश एंड कैरी स्टोर का संचालन करती है| ये स्टोर भारत के 9 राज्यों है| इन स्टोर में सामान तकरीबन 95 फीसदी भारत से सोर्स किया जाता है|

महाराणा प्रताप जयंती विशेस, मैसेज, कोट्स, शायरी, कविता, इमेज

फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर सचिन बंसल अपनी पूरी हिस्सेदारी वॉलमार्ट को बेच अलग हो जाएँगे

इस डील को पूरा होने में थोड़ा समय ओर लग सकता है| दोनों कंपनियों को भारत में डील पूरी करने के लिए कई रेगुलेटर्स की मंजूरी भी लेनी होगी| फ्लिपकार्ट में सॉफ्टबैंक का 20 प्रतिशत हिस्स्सा है| वही टायगर ग्लोबर की भी इस ई कॉमर्स कंपनी में 20 फीसदी का हिस्सा है| नैस्पर्स की फ्लिपकार्ट में 13 फीसदी हिस्सा है। एस्सेल के पास 6.4 फीसदी हिस्सा है। बिन्नी बंसल और सचिन बंसल के पास इस कंपनी का 5-5 फीसदी हिस्सा है।