पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार पांचवे दिन भी बढे, जानिए...

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार पांचवे दिन भी बढे, जानिए आपके शहर में आज का भाव

0
SHARE

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार पांचवे दिन भी बढे, जानिए आपके शहर में आज का भाव: पेट्रोल और डीजल के दाम में कुछ दिनों तक कमी के बाद एक बार फिर से इसके दामों में तेजी आ गई है| आज लगातार पांचवे दिन पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी दर्ज की गई | दिल्ली जहां पेट्रोल 23 पैसे बढ़कर 76.13 रुपए प्रति लीटर से 76.36 रुपए प्रति लीटर पर पहुँच गया| वही दिल्ली में एक लीटर डीजल के का रेट 21 पैसे की वृद्धि के बाद 67.86 रुपए प्रति लीटर से चढ़कर 68.07 पैसे पर पहुँच गया|

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार पांचवे दिन भी बढे, जानिए आपके शहर में आज का भाव

मुंबई में आज पेट्रोल का रेट 83.52 रुपए से चढ़कर 83.75 रुपए प्रति लीटर पहुंचा| मुंबई में एक लीटर डीजल की कीमत आज 23 पैसे की वृद्धि के बाद 72.23 रुपए प्रति लीटर हो गया| वही चेन्नई बात करें तो यहाँ पर आज एक लीटर 79.25 रुपए और डीजल 71.85 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है| कोलकाता में वही पेट्रोल 82.56 रुपए औऱ डीजल 70.62 का भाव है|

इन बातों को ध्यान में रखकर एटीएम फ्रॉड से बचा जा सकता है

पिछले महीने OEPC के सदस्य देशों ने निर्णय लिया था की वो हर दिन 10 लाख बैरल प्रतिदिन उत्पादन बढ़ाएंगे। इस प्रकार से दुनिया में तेल की सप्लाई की चिंता को कम करने की कोशिश की जा रही है| पिछले एक महीने से पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बढ़ोतरी दर्ज नहीं की गई थी लेकिन अब तेल कंपनियों ने एक बार फिर से तेल की कीमतों में वृद्धि शुरू कर दी है|

आपको बता दें की तेल की कीमतों में विश्व स्तर पर बढ़ोतरी का असर दिख रहा है| देश में काफी समय से तेल को जीएसटी के दायरे में लाने की कोशिश जारी है| 21 जुलाई को होने वाली जीएसटी की बैठक से उम्मीद लगाई जा रही है की इस बैठक में पेट्रोलियम पदार्थ को जीएसटी में लाने पर विचार विमर्श हो सकता है|

देश की राज्य सरकार पेट्रोल और डीजल पर अधिक आय के चलते इसे जीएसटी में शामिल करने का विरोध कर रही है| उन राज्यों को ऐसा लगा है की जीएसटी में आने के बाद उनकी कमाई में काफी कटौती होगी| आपको जानकारी दें दें की भारत अपनी जरुरत का 80 प्रतिशत ईंधन आयात करता है| वही दूसरी और डॉलर के मुकाबले रूपये का कमजोर होना भी इसकी कीमत में वृद्धि का कारण है|